बालाघाट में IG के आदेश पर हुई थी संघ प्रचारक की पिटाई

Friday, October 14, 2016

;
धनंजय प्रताप सिंह/बालाघाट। स्पेशल टास्क फोर्स की जांच में एक नया खुलासा हुआ है। बैहर में संघ प्रचारक सुरेश यादव की पिटाई आईजी डीसी सागर के आदेश पर हुई थी। टीम को एडिशनल एसपी राजेश शर्मा लीड कर रहे थे और टीआई जिया उल हक भी बराबर का भगीदार था। आईजी, लगातार एडिशनल एसपी के टच में थे। इस मामले में बालाघाट के एसपी असित यादव निर्दोष पाए गए हैं। उन्हें इन तीनों अधिकारियों ने गुमराह कर रखा था। 

सीधे निर्देश दे रहे थे आईजी
एसआईटी ने जांच में पाया कि संघ प्रचारक सुरेश यादव के मामले में तत्कालीन आईजी डीसी सागर को पूरी जानकारी थी। निलंबित एडिशनल एसपी बैहर राजेश शर्मा और टीआई जिया उल हक को आईजी सीधे निर्देश दे रहे थे। एसआईटी ने पाया कि आईजी इस मामले में पुलिस कप्तान की भूमिका में आ गए थे।

जांच में कई नए तथ्यों का भी खुलासा किया गया है। इसमें बताया गया कि संघ प्रचारक सुरेश यादव से एडिशनल एसपी और टीआई का पहले भी दो-तीन बार विवाद हो चुका था, जिस कारण दोनों यादव के खिलाफ बदले की भावना रखते थे। एसआईटी ने अपनी जांच रिपोर्ट में तत्कालीन पुलिस अधीक्षक डॉ. आसित यादव को निर्दोष माना है।

राज्य शासन द्वारा गठित एसटीआई में छतरपुर रेंज के डीआईजी केसी जैन, एएसपी छिंदवाड़ा राजेश त्रिपाठी, एआईजी सीआईडी भोपाल दिलीप सिंह तोमर, डीएसपी सीआईडी जबलपुर आरके शुक्ला, टीआई जबलपुर सीआईडी डीके मरकाम और एसके ओझा को शामिल किया गया था।

हो सकती है विभागीय जांच
नक्सल जोन बालाघाट से हटाए गए आईजी के खिलाफ विभागीय जांच हो सकती है। एसआईटी की रिपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा के बाद निर्णय लिए जाने की संभावना है।

फरार हैं एएसपी-टीआई
प्रचारक पिटाई के आरोपी निलंबित एएसपी राजेश शर्मा, टीआई जिया उल हक सहित सभी आठ आरोपी फरार हैं। एएसपी व टीआई ने कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन लगाया था, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया।

यादव के खिलाफ दूसरी बार कार्रवाई
बालाघाट एसपी के पद से हटाए जाने के बाद आईपीएस अफसर डॉ. आसित यादव को 13वीं बटालियन ग्वालियर में कमांडेंट नियुक्त किया गया है। इससे पहले भी यादव 2014 में ग्वालियर में सीएसपी मुरार रह चुके हैं। तब लोकसभा चुनाव के दौरान उनके खिलाफ कांग्रेस प्रत्याशी अशोक सिंह यादव की मदद करने की शिकायत की गई थी। शिकायत पर यादव को हटाया गया था।
पत्रकार श्री धनंजय प्रताप सिंह नवदुनिया भोपाल को सेवाएं दे रहे हैं। 
;

No comments:

Popular News This Week