स्टूडेंट ने CM के खिलाफ लिखी पोस्ट, लोगों ने होर्डिंग बनाकर टांग दी - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

स्टूडेंट ने CM के खिलाफ लिखी पोस्ट, लोगों ने होर्डिंग बनाकर टांग दी

Wednesday, October 19, 2016

;
कोलकाता। वेस्ट बंगाल में एक एमटेक स्टूडेंट को ममता बनर्जी के फैसले की अालोचना के चलते विरोध का सामना करना पड़ा है। राजश्री चट्टोपाध्याय के घर के पास 5.7 फीट का एक होर्डिंग टांगा गया है, जिस पर 'शेम ऑन यू' लिखा है। होर्डिंग में उसके फेसबुक प्रोफाइल का वह पेज लगा है, जिसमें उसने सीएम के फैसले पर नाराजगी जताई थी। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजश्री राजाबाजार साइंस कॉलेज में एमटेक की फर्स्ट ईयर स्टूडेंट है। उसने 14 अक्टूबर को अपने फेसबुक पेज पर ममता बनर्जी के फैसले (दुर्गा पूजा इमर्शन कार्निवाल) की आलोचना की थी। इसके अलावा, स्टूडेंट ने ममता से अगले साल 10 दिनों तक चलने वाले पूजा समारोह पर रोक लगाने को भी कहा था।

क्या कहना है स्टूडेंट का?
राजश्री ने कहा- "सरकार हर साल क्लबों के जरिए पूजा समारोहों पर करोड़ों रुपए खर्च करती है। इन क्‍लबों के मालिक राज्य के कई मंत्री हैं। मैंने इस बात को लेकर सिर्फ एक छोटा-सा विरोध जताया था और कहा था कि सरकार कहती है कि फाइनेंशियल क्राइसिस के चलते राज्य के इम्प्लॉइज को डीए नहीं दिया जा सकता, जबकि पैसा इस तरह बेकार किया जा रहा है। मैंने दोस्तों के बीच इस विषय पर एक चर्चा के बाद एक नॉर्मल टैक्स पेयर की तरह सवाल किया था। कुछ लोगों ने इसका सपोर्ट किया, जबकि कुछ मेरे प्वाइंट से सहमत नहीं हुए, लेकिन यहां तक तो सब ठीक था। 

घर के सामने प्रदर्शन किया, माफी मांगने को कहा
राजश्री के मुताबिक, रविवार को मेरे पड़ोसी ने मुझे फोन कर बताया कि मेरे घर के पास एक होर्डिंग लगा है। उसी दिन मेरे घर के पास महिलाओं के एक ग्रुप ने प्रदर्शन किया और मुझसे पब्लिकली माफी मांगने को कहा। ये महिलाएं सत्तारूढ़ दल (तृणमूल कांग्रेस) की थीं। इस पर मेरे पड़ोसियों ने मेरा बचाव किया। मैं एसएफआई (लेफ्ट की स्टूडेंट विंग) को सपोर्ट करती हूं। हो सकता है कि इसीलिए उन्‍हें मेरी पोस्‍ट पच न रही हो। सवाल ये है कि मैंने क्या गलत किया है? इस घटना ने मुझे जाधवपुर यूनिवर्सिटी में हुए वाकये की याद दिला दी है। इसमें ममता बनर्जी के बारे में एक कार्टून सर्कुलेट करने पर स्टूडेंट्स को अरेस्ट कर लिया गया था। 

होर्डिंग लगाने वालों का क्या कहना है?
इस होर्डिंग को लगाने वाली दमदम वार्ड 8 सिटिजन्स कमेटी का मानना है कि अगर डेमोक्रेसी में इस लड़की को सीएम की आलोचना करने का अधिकार है, तो बाकी लोगों को भी इसी डेमोक्रेसी के चलते उसे पब्लिकली लताड़ने का हक है। तृणमूल कांग्रेस के पार्षद अविजित मित्रा ने कहा- "लड़की ने अपनी फेसबुक पोस्ट में कहा है कि सीएम को नदी में डुबकी लगवाई जानी चाहिए, जो काफी अपमानजनक है। इसी वजह से मामले ने तूल पकड़ा। तृणमूल कांग्रेस के एक अन्य पार्षद बापी मित्रा ने कहा- इस मामले में हमारी पार्टी के वर्कर्स शामिल नहीं हैं। फिलहाल, मैंने होर्डिंग उतरवाने का आदेश दे दिया है।
;

No comments:

Popular News This Week