इंदौर कलेक्टर पी नरहरि के काम से खुश हुए शिवराज सिंह

Tuesday, October 25, 2016

;
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर कलेक्टर पी. नरहरि के कार्यों की प्रशंसा करते हुए सभी जिले कलेक्टर व अधिकारियों को पी.नरहरि की तरह काम करने की सीख दी है। सीएम ने इंदौर संभाग में कलेक्टर द्वारा किए गए कार्यो को अन्य जिला कालेक्टरों के सामने एक माडल की तरह रखा है। साथ ही उन्होंने अफसरों को कहा है कि, अब उनके कार्यों का मूल्यांकन परफॉर्मेंस के आधार पर होगा। जोकि उनके गोपनीय चरित्रावली में दर्ज होगा।

मुख्यमंत्री शिवराज आज मंगलवार को  नर्मदा भवन में शुरू हुई दो दिवसीय कमिश्नर-कलेक्टर्स कान्‍फ्रेंस में बोल रहे थे। उन्होंने बैठक में सबसे पहले सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा की। इसमें उन्होंने  इंदौर जिले के  बेहतर काम की प्रशंसा की। वहीं प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘हाउसिंग फ़ॉर ऑल’ में भी इंदौर का कार्य पूरे प्रदेश में उत्कृष्ट रहा। मुख्यमंत्री ने  इंदौर, उज्जैन, हरदा नरसिंहपुर, सीहोर, सीधी, रीवा, नरसिंहपुर ,आगरमालवा, को स्वच्छ भारत मिशन के लिए भी बधाई दी है।

कान्फ्रेंस के दौरान मुख्यमत्री शिवराज सिंह ने  मजदूर सुरक्षा योजना और संनिर्माण कर्मकार मंडल की योजनाओं की समीक्षा की। वहीं मंत्री गौरीशंकर बिसेन की शिकायत पर बालाघाट सीईओ के खिलाफ जांच के आदेश भी दिए हैं। साथ ही अशोकनगर सीईओ के विरुद्ध भी कार्रवाई की निर्देश दिए।

ये हैं बैठक के खास बिंदु-
सतना और अशोकनगर CEO पर आवास योजना में लापरवाही के चलते कार्रवाई के संकेत।
मनरेगा में डिन्डोरी दोनों वर्ष टॉप पर रहने पर मुख्यमंत्री ने बधाई दी।
प्रभारी मंत्रियों को भी निर्देश दिए कि वनाधिकार वालों को मिलने वाली सुविधाओं की समीक्षा करें।
कान्फ्रेंस में बताया गया कि 25 दिसम्बर से 26 जनवरी तक प्रदेश में शहरी गरीबों के लिए आवास दिलाने, नगर उदय योजना चलाई जाएगी।
रिक्शों को ई-रिक्शा में बदलने की योजना पर भी विचार।
सतना, अशोकनगर, उमरिया, विदिशा, होशंगाबाद में स्वच्छ भारत मिशन में इस वर्ष सबसे खराब प्रदर्शन।
;

No comments:

Popular News This Week