सावधान ! चीन फिर से मीठे बोल, बोल रहा है - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

सावधान ! चीन फिर से मीठे बोल, बोल रहा है

Sunday, October 16, 2016

;
नईदिल्ली। इतिहास गवाह है, चीन जब जब मीठे बोल बोलता है, भारत की पीठ में छुरा भौंकता है। 'हिन्दी चीनी भाई भाई' का नारा हम भुला नहीं पाते, जिसने भारत को सबसे बड़ा विश्वासघात दिया। एक बार फिर चीन भारत के लिए मीठे बोल, बोल रहा है। इस बार चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि वो भारत की रंगभरी परंपराओं के मुरीद हैं।

शी जिनपिंग ने कहा कि 'मैं साल 2014 में भारत आया था। उस वक्त यहां के मेहनतकश लोग, रंगभरी परंपराओं और इस महान देश ने मेरे दिल में गहरी छाप छोड़ी थी।' शनिवार को जब शी जिनपिंग भारत पहुंचे थे तब भी उनका पारंपरिक डांस और गाने के साथ स्वागत किया गया था। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ब्रिक्स सम्मेलन में शामिल होने के लिए भारत आए हुए हैं। उन्होंने कहा कि ब्रिक्स देश आपस में दोस्त और भाई हैं सभी को एक-दूसरे के हितों का ध्यान रखना चाहिए।

बता दें कि चीन जब जब भारत के सामने होता है, दोस्ती और भाईचारे की बात करता है, लेकिन पीठ फिरते ही पाकिस्तान का मददगार हो जाता है। भारत में मोदी प्रशासन के दौरान चीन ने एक भी ऐसा काम नहीं किया है ​जो भारत हितैषी हो, अलबत्ता भारत विरोधी काम कई कर चुका है। अत: सावधान, अब जबकि भारत पाक के बीच तनाव चल रहा है, चीन की मीठी बातों में फंसना नहीं चाहिए। 
;

No comments:

Popular News This Week