पाकिस्तान में मनाया जा रहा है भारतीय सैनिकों की मौत का जश्न

Tuesday, October 25, 2016

;
नईदिल्ली। भारत में बहस चल रही है कि झगड़ा पाकिस्तान की सरकार के साथ करें या आम नागरिकों के साथ भी और पाकिस्तान के आम नागरिक उस आतंकवादी के लिए नमाज पढ़ने जा रहे हैं जिसने 177 हिंदू सैनिकों को हमला कर मार डाला। सबकुछ खुलेआम चल रहा है, पाकिस्तान सरकार ऐसी गतिविधियों को दिखावे के लिए भी नहीं रोक रही है। क्या अब प्रमाणित करना शेष है कि पाकिस्तान की सरकार ही नहीं, बल्कि वहां के ज्यादातर आम नागरिक भी भारत के प्रति घृणा का भाव रखते हैं। 

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गुजरांवाला में खुलेआम पोस्टर लगाए गए हैं। दावा किया गया है कि उरी में हुआ हमला लश्कर-ए-तैयबा ने किया था। इसकी सफलता के लिए जश्न का माहौल बनाया जा रहा है। इस हमले में मारे गए 4 आतंकवादियों में से 1 की अंतिम यात्रा निकाली जाएगी। 

पोस्टर में एक आतंकवादी का नाम है, जो कि गुजरांवाला निवासी मोहम्मद अनस है, जो कि अबू सिरका के नाम से ऑपरेट करता था। उसके लिए नमाज में शामिल होने के लिए स्थानीय निवासियों को आमंत्रित किया गया है। पोस्टर में अनस को लश्कर-ए-तैयबा का शेर दिल पवित्र योद्धा बताया गया है। साथ ही दावा किया गया है कि उसने 177 हिंदू सैनिकों को नर्क में भेजा है।  आतंकी हाफिज सईद इस अंतिम यात्रा का नेतृत्व करेगा। 
;

No comments:

Popular News This Week