एक सर्जिकल स्ट्राइक हाफिज़ सईद के लिए चाहिए

Saturday, October 1, 2016

उपदेश अवस्थी। पाकिस्तान सरकार द्वारा वित्त पोषित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के चीफ एवं भारत के मोस्टवांटेड आतंकवादी हाफिज सईद सिरदर्द बन गया है। वो भारत का गुनहगार है, लेकिन ना केवल पाकिस्तान में खुला घूम रहा है बल्कि पाकिस्तान सरकार ने उसे सुरक्षा और सुविधाएं भी दे रखीं हैं। सईद के मामले में कतई उम्मीद नहीं की जा सकती कि पाकिस्तान कभी कोई न्यायपूर्ण कार्रवाई करेगा। अत: जरूरी है कि उसे एक सर्जिकल स्ट्राइक के माध्यम से हमेशा के लिए चुप करा दिया जाए। आखिर मुंबई के शहीदों को भी न्याय मिलना चाहिए। 

बोलता है भारत से बदला लेगा
पीओके में इंडियन आर्मी के आॅपरेशन के बाद ट्विटर पर हाफिज़ सईद ने भारत को परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है। हाफिज़ ने कहा है कि आज़ाद कश्मीर में कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं हुई है। यह केवल अजित डोभाल का किया हुआ साइकोलोजिकल ऑपरेशन का ड्रामा है। पर अगले ही ट्वीट में यह आतंकवादी सरगना लिखता है कि भारत को उसकी सर्जिकल स्ट्राइक्स के लिए माकूल जवाब दिया जाएगा।

पाकिस्तानी सेना के चीफ जैसा बयान 
आगे सईद ने कहा कि भारतीय मीडिया भी देखेगा कि पाकिस्तानी सेना ने कैसे सर्जिकल स्ट्राइक्स किए। अमेरिका भी कोई भारत की मदद नहीं कर पाएगा। जो लोग हमारा पानी रोकने की बात करते हैं वह सुन लें कि कश्मीर को उसके बांध के साथ आज़ाद करवा लिया जाएगा। सईद मांग करता है कि पाकिस्तानी सेना को कश्मीर को आज़ाद कराने के लिए खुली छूट दी जाए। आगे सईद कहता है कि कश्मीर की आज़ादी भारत की बर्बादी की शुरुआत होगी। 1971 समेत बहुत सारा बदला लिया जाना है।

मुंबई के शहीदों को भी न्याय मिलना चाहिए
याद दिला दें कि ये वही हाफिज सईद है जिसने मुंबई का हमला करवाया। सईद भारत का मोस्ट वांटेड आतंकवादी है। सईद के इस ट्वीट के बाद उसे चुप कराना जरूरी हो गया है। सईद के बयान इस बात का सबूत हैं कि वो पाकिस्तान सरकार के लिए काम कर रहा है। उसने अपने संगठन के नाम पर पाकिस्तान की बिना वर्दीवादी सेना बना रखी है। वो भारत का गुनहगार है और ना केवल खुला घूम रहा है बल्कि भारत के खिलाफ भड़काऊ बयान भी जारी कर रहा है। मोदी सरकार को चाहिए कि उसे चुप कराने के लिए सेना को किसी भी प्रकार की कार्रवाई करने का अधिकार दे दिया जाए। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week