इंजीनियरिंग के बाद भी थी बेरोजगार, डिप्रेशन में छलांग लगा दी

Friday, October 14, 2016

;
भोपाल। प्राइवेट कॉलेजों को मनमानी फीस देने के बाद भी जब नौकरी ना मिले तो हालात कुछ और ही हो जाते हैं। परिवार का दवाब और बेरोजगारी के ताने किसी को भी डिप्रेशन में लाने के लिए काफी हैं। बंसल कॉलेज से बीई करने के बाद भी अर्चना को नौकरी नहीं मिल रही थी। 3 साल ठोकरें खाने के बाद उसने यह खौफनाक कदम उठाया। 

पुलिस के मुताबिक, युवती विदिशा जिले के सिरोंज की रहने वाली है। उसने भोपाल के बंसल कॉलेज से बीई किया है। करीब तीन साल तक जॉब करने के बाद वह इन दिनों बेरोजगार थी। माना जा रहा है कि किसी बात को लेकर डिप्रेशन में थी। उसे हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

युवती भोपाल में चौक बाजार में रहती है। पुलिस के मुताबिक, युवती वीआईपी रोड पर राजा भोज प्रतिमा के पास अपने किसी मित्र के साथ खड़े होकर बात कर रही थी। बात करते हुए वह प्रतिमा के पास पहुंची और अचानक तालाब में छलांग लगा दी।
;

No comments:

Popular News This Week