मप्र के ढाई लाख संविदा कर्मचारियों को होगा फायदा, महासंघ ने दीवाली मनाई - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

मप्र के ढाई लाख संविदा कर्मचारियों को होगा फायदा, महासंघ ने दीवाली मनाई

Friday, October 28, 2016

;
भोपाल। सुप्रीम कोर्ट के द्वारा अस्थाई और संविदा कर्मचारियों को समान कार्य समान वेतन दिये जाने के निर्णय के परिप्रेक्ष्य में भोपाल में संविदा कर्मचारियो ने अरेरा हिल्स स्थित राज्य शिक्षा केन्द्र के सामने पटाखे फोड़कर आतिशबाजी की। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि प्रदेश के विभिन्न विभागों में लगभग ढाई लाख संविदा कर्मचारी अधिकारी कार्य कर रहे हैं। जिनको सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय से फायदा होगा। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ ने माननीय जबलपुर उच्च न्यायालय में समान कार्य समान वेतन और नियमितीकरण की याचिकाएं दायर की हुई हैं। जो कि अंतिम सुनवाई के दौर में चल रही हैं माननीय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा अस्थाई और संविदा कर्मचारियों को नियमित और स्थाई कर्मचारियों के समान ही वेतनमान और भत्ते दिये जाने के निर्णय से उन याचिकाओं का निराकरण हो जायेगा। 

जिससे प्रदेश के संविदा कर्मचारियों को भी नियमित कर्मचारियों के समान वेतन मिलने का रास्ता साफ हो गया है । म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि महासंघ लगातार म.प्र. सरकार से ज्ञापनों के माध्यम् से और आंदोलनों के माध्यम् से प्रदेश के विभिन्न विभागों में कार्यरत ढाई लाख संविदा कर्मचारियों को समान कार्य समान वेतन दिये जाने की लड़ रहा है और सरकार को संविदा कर्मचारियों की इस पीड़ा से अवगत कराता रहा है । इसलिए म.प्र. सरकार को भी चाहिए कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का पालन करते हुये संविदा कर्मचारियों को समान कार्य समान वेतन के आदेश जारी करे ।

इन विभागों में प्रदेश के ढाई लाख संविदा कर्मचारी अधिकारी काम कर रहे हैं,  राज्य शिक्षा केन्द्र, जिला शिक्षा केन्द्र, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, मनरेगा,  स्वच्छ भारत अभियान, मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क विकास प्राधीकरण, आजीविका मिशन, राज्य जल मिशन, राजीव गांधी जलग्रहण मिशन, आईएवाय, आईएपी,, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, डीआरडीए, आईएलपी , शहरी विकास अभिकरण,  स्वास्थ्य विभाग, आयुष विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण एवं शहरी स्वास्थ्य मिशन, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग, ऊर्जा विभाग, म.प्र. समस्त विघुत वितरण कम्पनी,, महिला बाल विकास विभाग, खेल एवं युवक कल्याण विभाग एवं उनकी समस्त योजनाएं, महिला आर्थिक विकास निगम, तेजस्वनी परियोजना, किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग, आदिम जाति एवं सामाजिक न्याय विभाग, वन विभाग, चिकित्सा शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा विभाग, कौशल विकास केन्द्र,नगरीय प्रशासन विभाग, कुटीर एवं ग्रामोउघोग विभाग, स्कूल शिक्षा एवं उच्च शिक्षा विभाग,संस्कृति एवं धार्मिक न्यास विभाग, वाणिज्यक कर विभाग, सहकारिता विभाग,सुशासन एवं प्रशासन विभाग, समस्त निगम मण्डल, योजना एवं आर्थिक सांख्यिकी विभाग, पुलिस हाऊसिंग विभाग, मनरेगा एवं रोजगार सहायक, लोक निर्माण विभाग, पशुपालन विभाग, लोक सेवा एवं प्रबंधन विभाग, ईगर्वनेस विभाग आदि, विकास प्राधीकरण विभाग, पीएचई, हैण्डपंप टैक्निशियन, आवास एवं पर्यावरण विभाग, जनअभियान परिषद, राष्टीय खाद्य मिशन, आत्मा परियोजना, सामाजिक न्याय विभाग, वन विकास निगम, लोक निर्माण विभाग  । आज के प्रदर्शन में म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर, रमेश सिंह, विजय जैन, प्रमोद खरे, सुनील सेन, सुनील श्रीराव, रवी शर्मा, वैभव श्रीवास्तव, सुधीर गुप्ता, जितेन्द्र ठेकेदार, अरविन्द सिंह बुदेला, उस्मान खान, इंतकाब खान,  मनोज देशमुख, मुरलीधर शर्मा, सत्येन्द्र सिंह परिहार, अनूप शांडिल्य, पुरण सिंह, दिनेश कुशवाह प्रमोद शर्मा, राजकुमार साकल्ले जगदीश हेमनानी, पुष्पेन्द्र सिंह, अतुल तिवारी,  आदि लोगों ने भाग लिया । 
;

No comments:

Popular News This Week