हर वाट्सएप ग्रुप में डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट को एड करने के आदेश, नहीं तो जेल

Thursday, October 20, 2016

भोपाल। हो सकता है आप बिहार के मधेपुरा निवासी ना हों परंतु यह खबर आपके लिए भी है, क्योंकि एक डीएम को देखकर दूसरा भी आदेश जारी कर देता है। फिलहाल यह आदेश मधेपुरा के डीएम ने जारी किया है। आदेश के अनुसार अब हर वाट्सएप ग्रुप में डीएम का एक नंबर एड करना जरूरी है ताकि आपके ग्रुप की निगरानी की जा सके और साम्प्रदायिकता या अश्लीलता फैलाने वालों पर तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित की जा सके। यदि आप ऐसा नहीं करते तो आपको जेल भेज दिया जाएगा। 

नए फरमान के तहत आप जिले में कोई व्हाट्स एप ग्रुप चला रहे हैं या आपका फेसबुक अकाउंट है तो उसमें आपको मधेपुरा प्रशासन को भी जोड़ना होगा। ऐसा नहीं किया तो कार्रवाई होने के साथ-साथ आप को जेल भी भेजा जा सकता है। प्रशासन के मॉनिटरिंग सेल ने इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। 

मधेपुरा डीएम ने ये फरमान विजयादशमी और मुहर्रम के दौरान बिहारीगंज में भड़की हिंसा को लेकर जारी किया है। हालांकि इस फरमान से व्हाट्स एप के पारिवारिक ग्रुप को अलग रखा गया है। इस मामले में पूछे जाने पर सरकार साफ कह रही है कि परिस्थितियों के हिसाब से मधेपुरा डीएम का ये फरमान सही है। जबकि डीएम के इस फरमान को स्थानीय लोग अजीब ही नहीं बल्कि बेतुका भी बता रहे हैं। लोगों के मुताबिक बिहारीगंज में जो कुछ भी हुआ उसका दोष डीएम सोशल मीडिया पर मढ़कर खुद और अपने मातहतों की गर्दन बचाने की कोशिश कर रहे हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week