जुआघर पर छापा मारने गई पुलिस को आरएसएस कार्यकर्ताओं ने रोका !

Sunday, October 23, 2016

ग्वालियर। शनिवार शाम करीब 5:30 बजे ढोली बुआ के पुल पर चल रहे जुए के अड्डे पर छापामार कार्रवाई करने गई पुलिस को आरएसएस के कुछ कथित कार्यकर्ताओं ने रोक लिया और विवाद शुरू कर दिया। विवाद थाने पहुंचा और बाद में कार्यकर्ताओं को छोड़ दिया गया। नतीजा, पुलिस जुए के अड्डे पर छापामार कार्रवाई बिफल हो गई। 

क्राइम ब्रांच की टीम ने शनिवार शाम 5:30 बजे के लगभगग ढोली बुआ पुल पर सट्टा चलाने वाले श्याम के अड्डे पर छापा मारा। छापे की कार्रवाई का कुछ लोगों ने मौके पर ही विरोध किया। इस दौरान पुलिस के साथ झूमाझटकी भी की गई। पुलिस छापे की कार्रवाई का विरोध करने वालों को थाने उठा लाई। जो लोग हिरासत में लिए गए उनमें बजरंग दल के जिला संयोजक कृष्ण कुमार रावत, गौरक्षा प्रकोष्ठ के प्रमुख नीरज उचिया सहित पांच लोग शामिल हैं। सभी खुद को आरएसएस का कार्यकर्ता बता रहे थे। 

पुलिस ने आरोपियों को लॉकअप में डाल दिया तो नेताओं के समर्थकों ने रात में एसपी ऑफिस के गेट पर डेरा डाल दिया। ऑफिस का घेराव की सूचना मिलते ही एएसपी क्राइम आलोक सिंह व टीआई थाना यूनिवर्सिटी विनोद करकरे पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। बजरंगियों का आरोप है कि क्राइम ब्रांच की टीम ढोली बुआ के पुल पर निर्दोषों की मारपीट कर मोहल्ले वालों से अभद्रता कर रहे थे। इसका बजरंगियों ने विरोध किया था। 

बालाघाट कांड के बाद घबराई पुलिस ने शासकीय कार्य में बाधा डालने वाले आरएसएस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेने के बाद भी रिहा कर दिया। एएसपी का कहना है पूरे मामले की जांच की जा रही है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week