शर्मिंदगी से बचने लाशें दफनाकर मीडिया को बुला लाई पाकिस्तान सेना - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

शर्मिंदगी से बचने लाशें दफनाकर मीडिया को बुला लाई पाकिस्तान सेना

Sunday, October 2, 2016

;
नईदिल्ली। भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तानी आतंकवादी शिविरों पर किया गया हमला पाक सेना पचा नहीं पा रही है। पाक आर्मीचीफ राहिल शरीफ खुद अपने देश में घिर गए हैं। अत: वो हर संभव कोशिश कर रहे हैं कि 'सर्जिकल स्ट्राइक' को झुठला दें। सबसे पहले उन्होंने तबाह शिविरों का मलवा और लाशें हटवाईं और फिर अंतर्राष्ट्रीय मीडिया को हेलीकॉप्टर से उस इलाके का दौरा कराया जहां भारत ने आॅपरेशन किया है। यह जताने की कोशिश की कि भारत का दावा झूठा है। 

पाक सेना पत्रकारों के एक समूह को नियंत्रण रेखा के निकट के स्थानों पर ले गई और अपना पक्ष मजबूत करने की कोशिश की। पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने कहा कि उनकी सीमा के भीतर किसी तरह की कार्रवाई असंभव है। 

बता दें कि 2011 में एबटाबाद में अमेरिका की कार्रवाई के बाद भी सेना और पाकिस्तान सरकार को काफी शर्मिंदगी उठानी पड़ी थी। भारत के इस हमले के बाद तो पाक आर्मीचीफ राहिल शरीफ अपने ही देश के निशाने पर आ गए हैं। खुद को बचाने के लिए राहिल लगातार यह जताने की कोशिश कर रहे हैं कि भारत का दावा गलत है। उनके कब्जे वाली कश्मीर में कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके इतर खबर आ रही है कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में संचालित आतंकवादी शिविर खाली हो गए हैं। यहां मौजूद 500 में से 300 आतंकवादी पहले ही भाग गए थे। अंतर्राष्ट्रीय मीडिया को लाने से पहले शेष 200 को भी पाकिस्तान में छुपा दिया गया। 
;

No comments:

Popular News This Week