मप्र: कान्हा नेशनल पार्क में हो रही है टाइगर के अंगों की तस्करी, 8वीं लाश मिली

Sunday, October 23, 2016

;
भोपाल। कान्हा नेशनल पार्क में बाघ के अंगों की तस्करी का मामला सामने आया है। यहां एक बाघ का शव मिला है। बाघ की मौत संदिग्ध है। शव से महत्वपूर्ण अंग गायब हैं। सुनिश्चित हो गया है कि बाघ का शिकार किया गया और तस्करों ने उसके अंग निकाल लिए। नेशनल पार्क में एक साल में बाघ की मौत का यह आठवां मामला हैं। इसी के साथ वनविभाग के आला अधिकारी जांच की जद में आ गए हैं क्योंकि बिना आला अधिकारियों की मर्जी के इस स्तर के शिकार और तस्करी कान्हा नेशनल पार्क में संभव ही नहीं है। 

जानकारी के अनुसार, बाघ का शव शनिवार देर शाम को मंडला जिले में खटिया रेंज में बंजर नदी के पास मिला है। गश्त पर निकले वनकर्मियों को सबसे पहले बाघ का शव नजर आया था। शव से महत्वपूर्ण अंग गायब हैं। यह कतई सामान्य मौत नहीं है। पार्क प्रबंधन हमेशा की तरह मामले पर पर्दा डालने और मीडिया के सवालों से बचने की कोशिश कर रहा है। 

पिछले एक साल में कान्हा नेशनल पार्क में एक तेंदुआ समेत आठ बाघों की मौत हो चुकी है। लगातार हो रही बाघों की मौतों ने कान्हा प्रबंधन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं और अब शिकार की आशंका से पार्क की सुरक्षा पर गंभीर सवाल खड़े कर रहा है।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week