राज्य के कुल कालाधन का 76 प्रतिशत सिर्फ एक आदमी के पास | BLACK MONEY

Thursday, October 13, 2016

अमरावती। केंद्र सरकार की इनकम डिक्लेयरेशन स्कीम (आईडीएस) के तहत आंध्र प्रदेश के एक शख्स ने 10 हजार करोड़ के काले धन की घोषणा की है। आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि राज्य में 13 हजार करोड़ काला धन घोषित किया गया है।

नियमों की वजह से उस शख्स के नाम के बारे में जानकारी नहीं मिल सकी है, लेकिन अगर किसी शख्स ने इतनी बड़ी रकम की घोषणा की है तो निश्चित तौर पर वो एक व्यापारी हो सकता है। माना जा रहा है कि नायडू ने इशारों-इशारों में अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी वाईएसआर कांग्रेस के जगन पर निशाना साधा है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि काले धन पर लगाम लगाने के लिए हुए 500 और 1000 रुपए के नोट को बंद कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से देश में छुपा काला धन बाहर आएगा और भ्रष्टाचार मिटेगा। देशभर से 65 हजार करोड़ काले धन की घोषणा हुई है, जिसमें 13 हजार करोड़ रुपए के साथ आंध्र प्रदेश नंबर वन पर है।

वेलगापुडी स्थित अपने नए कार्यालय में मीडिया से रू-ब-रू नायडू ने कहा, 'काला धन जमा करने वालों और भ्रष्ट लोगों के लिए राजनीति शरणगाह बन गई है। राजनीति में कुछ ऐसे लोग हैं, जो जनता से मिले अधिकार का दुरुपयोग करते हैं। मैंने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है।

इसमें एक हजार और पांच सौ के नोट बंद करने की मांग की है। साथ ही किसी भी प्रकार के लेनदेन को बैंक के जरिये करने को प्रोत्साहन देने का आग्रह किया है।' मुख्यमंत्री ने कहा, बड़े नोट बंद हो जाएंगे, तो वोटों की खरीद भी बंद हो जाएगी। समय बीतने के साथ, सभी देशवासियों के पास उनका बैंक खाता होगा। हमें इसे व्यवहार में लाना है। तब ही इन बुराइयों पर लगाम लगेगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं