रीवा में पति ने 4 दोस्तों के साथ मिलकर किया रेप, फिर पत्नी को मार डाला

Wednesday, October 12, 2016

;
मध्यप्रदेश। रीवा में एक अक्टूबर को हुए कॉलेज स्टूडेंट के मर्डर का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। आरोप है कि उसके पति ने अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर उसका मर्डर किया था। इससे पहले पति ने दोस्तों से पत्नी का रेप कराया था। उनकी शादी करीब 4 महीने पहले ही हुई थी। 

एक अक्टूबर को बिछिया थाने के डिहिया गांव के समीप सिलपुरा नहर में प्रियंका मिश्रा पुत्री वंशपति निवासी पहाड़िया की लाश मिली थी। प्रियंका शनिवार की सुबह 10 बजे अपनी स्कूटी से कॉलेज के लिए निकली थी। स्कूटी रायपुर कर्चुलियान में खड़ी मिली थी। प्रियंका रीवा के जेएनसिटी कॉलेज में बीकॉम फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट थी। प्रियंका रीवा से करीब 15 किमी दूर स्थित रायपुर कर्चुलियान गांव में रहती थी।

बिछिया थाना प्रभारी अशोक तिवारी के मुताबिक, प्रियंका का मर्डर उसके पति अनिल मिश्रा (निवासी अनंतपुर कुबेर तालाब) ने अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर किया था। इससे पहले उसके साथ रेप किया गया था। प्रियंका की शादी 4 महीने पहले हुई थी। इसी 10 अक्टूबर को उसका 'गौना' होना था। आरोपी को शक था कि प्रियंका का अफेयर अपने भतीजे (बहन के भाई) के साथ था।

आरोपी लंबे समय से इस हत्या के षड्यंत्र को अंजाम देने की कोशिश में लगा हुआ था। IG आशुतोष राय और SP संजय कुमार ने ASP सुनील तिवारी के नेतृत्व में नोवस्ता चौकी प्रभारी विजय सिंह, साइबर सेल प्रभारी अखिलेश सिंह और उड़नदस्ता टीम को इस मामले की जांच-पड़ताल सौंपी थी।

हाथ की नस काट दी थी...
प्रियंका की हत्या रेप के बाद कार में गला दबाकर कर दी गई थी। बाद में आरोपियों ने उसके हाथ की नस भी काट दी थी और सारे कपड़े फाड़ डाले थे। पुलिस के उसी दिन रात में अर्धनग्न हालत में प्रियंका का शव मिला था। प्रियंका की पहचान अगले दिन हो सकी थी। मृतका की मां और भाभी ने बताया था कि अनिल ने घटना वाले दिन सुबह करीब 9.30 बजे फोन करके उसे रीवा में मंदिर चलने के लिए बुलाया था, तब से वह लापता थी।

उसी दिन रात करीब 10.30 बजे परिजनों ने रायपुर कर्चुलियान थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। परिजनों के मुताबिक, अनिल शादी के बाद से ही प्रियंका को परेशान कर रहा था। पुलिस की जांच-पड़ताल में खुलासा हुआ था कि घटनास्थल पर एक सफेद रंग की एक्सयूवी कार देखी गई थी।

पति ने ही दिलाई थी स्कूटी...
अनिल कई दिनों से प्रियंका के मर्डर का षड्यंत्र करते आ रहा था। पहले प्रियंका ऑटो में बैठकर गांव से कॉलेज आती थी। इसलिए उसे मौका नहीं मिल रहा था। अनिल ने प्रियंका को स्कूटी दिला दी, ताकि वह अकेली कॉलेज आए लेकिन प्रियंका अपनी सहेली के साथ स्कूटी पर कॉलेज आने लगी। घटना वाले दिन अनिल ने उसे अकेले आने को कहा था।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week