कमिश्नर ने सफाई कर्मचारियों को दी 2 घंटे गंदे टॉयलेट में बंद करने की सजा

Tuesday, October 18, 2016

मध्य प्रदेश के एमवाय अस्पताल में गंदगी देखकर कमिश्नर संजय दुबे ने दरोगा और स्वीपर को दो घंटे टॉयलेट में बंद रखने की सजा सुना दी। कमिश्नर के ये तेवर अस्पताल के महिला वार्ड में गंदगी के बाद देखने को मिलें।  मंगलवार को कमिश्नर संजय दुबे आकस्मिक निरीक्षण पर एमवाय अस्पताल पहुंचे. यहां दूसरी मंजिल पर महिला वार्ड के टॉयलेट में गंदगी को देखकर उन्होंने जिम्मेदार अधिकारियों और स्टाफ को जमकर फटकार लगाई।

कमिश्नर ने इसके बाद संबंधित दरोगा और महिला स्वीपर को दो घंटे तक टॉयलेट में बंद रहने का फरमान सुना दिया, जिसके बाद अस्पताल के एक बड़े अफसर ने दोनों को टॉयलेट परिसर में बंद कर दिया। दरअसल, कमिश्नर एमवाय अस्पताल के कायाकल्प अभियान में जुटे हुए हैं. वह खुद आकर यहां हो रहे निर्माण कार्यों और व्यवस्थाओं का जायजा लेते हैं. इसी कड़ी में कमिश्नर आकस्मिक निरीक्षण के लिए पहुंचे, तो सफाई इंतजाम की पोल खुल गई.

इंदौर का एमवाय अस्पताल प्रदेश का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल है. इंदौर और उज्जैन संभाग के एक दर्जन से ज्यादा जिलों के अलावा पड़ोसी राज्यों से सैकड़ों मरीज यहां रोजाना बेहतर इलाज की आस लेकर आते है.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week