मोदी का मन बदला: पाकिस्तान से MFN दर्जा छीनने वाली बैठक टली

Thursday, September 29, 2016

नईदिल्ली। पाकिस्तान को आर्थिक तंगहाली के दौर में ले जाने का फैसला फिलहाल टाल दिया गया है। पाकिस्तान के मोस्ट फेवर्ड नेशन के दर्जे की समीक्षा के लिए पीएम मोदी द्वारा बुलाई गई बैठक टाल दी गई है। बता दें कि भारत ने पाकिस्तान को MFN दर्जा दे रखा है लेकिन पाकिस्तान ने भारत को यह दर्जा आज तक नहीं दिया। यदि भारत, पाकिस्तान से MFN दर्जा छीन लेता है तो पाकिस्तान की पूरी अर्थव्यवस्था ही दरक जाएगी परंतु भारत अब भी नरमदिली दिखा रहा है। 

पाकिस्‍तान को ‘मोस्‍ट फेवर्ड नेशन’ (MFN) के दर्जे की समीक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैठक बुलाई थी, लेकिन उसे अब अगले सप्ताह के टाल दिया गया है। बैठक में पीएम मोदी विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज और वाणिज्‍य मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात कर तय करने वाले थे कि पाकिस्‍तान का यह दर्जा बरकरार रखा जाए या नहीं।

वर्ल्‍ड ट्रेड ऑर्गनाइजेशन (WTO) का सदस्‍य होने की प्रतिबद्धता के चलते पाकिस्‍तान को 1996 में MFN का दर्जा दिया गया था। WTO के जनरल एग्रीमेंट आन टैरिफ्स एंड ट्रेड (GATT) के MFN सिद्धांत पर भारत ने हस्‍ताक्षर किए हैं। इसके मुताबिक WTO सदस्‍य देशों में से हर एक को (इस मामले में भारत और पाकिस्‍तान) सभी अन्‍य सदस्‍यों से ‘सबसे इष्ट व्यापारिक भागीदारों’ की तरह व्‍यापार करना होगा। WTO के अनुसार, MFN भले ही विशेष व्‍यवहार की परिभाषा लगे, असल में इसका मतलब गैर-भेदभाव है। पाकिस्‍तान ने भारत को ‘मोस्‍ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा नहीं दे रखा है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं