जिस महिला को सीएम ने सम्मानित किया था, उसे जूतों की माला पहनाई - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

जिस महिला को सीएम ने सम्मानित किया था, उसे जूतों की माला पहनाई

Sunday, September 25, 2016

;
अंबाला। अवैध संबंधों के आरोप में हरियाणा के गांव बरनाला में पकड़े गए बलदेव नगर निवासी युवक और महिला का मुंह काला कर उन्हें जूतों की माला पहनाकर घुमाने और गूगा माड़ी पर नाक रगड़वाने का मामला सामने आया है। इसका वीडियो भी वायरल हुआ था। महिला बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और भ्रूण हत्या रोकने जैसे कार्यों में अहम भूमिका के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल से सम्मानित हो चुकी है। युवक की शिकायत पर पुलिस ने शनिवार को तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

यह है मामला
गत 26 जुलाई को गांव बरनाला में बलदेव नगर निवासी सर्वजीत को ग्रामीणों ने गांव की एक महिला से अवैध संबंधों के आरोप लगाकर पकड़ लिया। इसके बाद दोनों का मुंह काला कर जूतों की माला डाल दी और घुमाया। पंचायत ने युवक और महिला को यह सजा सुनाई थी।

वीडियो क्लिप से जो बात सामने आई हैं उसके मुताबिक कथित तौर पर बलदेव नगर निवासी सर्वजीत के गांव बरनाला की रहने वाली एक युवती के साथ अवैध संबंध थे। उस युवती का गांव बरनाला में प्रेम विवाह हुआ है। आरोप है कि महिला अपने पति को नशीला पदार्थ देकर सर्वजीत के साथ अवैध संबंध बनाती थी।

वहीं, सर्वजीत का कहना है कि वह सुबह चार बजे मोटरसाइकिल पर गुरुद्वारा साहिब में माथा टेकने जा रहा था कि आरोपियों ने उसे पकड़ लिया। सर्वजीत की शिकायत पर पंजोखरा पुलिस ने हरजीत सिह उर्फ काला, रणजीत सिह व राजेंद्र उर्फ काला को गिरफ्तार कर लिया है।

तीनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। हालांकि पुलिस ने नामजद सरपंच को भी हिरासत में लिया था, लेकिन थाने में तनाव के चलते उसे तफ्तीश में शामिल कर छोड़ दिया गया। इस मामले में महिला की शिकायत दर्ज नहीं की गई है। महिला ने अंबाला के डीसीपी से लेकर डीजीपी तक पंचायत और अपने संबंधियों के खिलाफ शिकायत की गुहार लगाई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

महिला के पिता का आरोप
जिस महिला के गले में जूतों की माला डाली गई उसके पिता ने बताया कि सारा मामला प्रॉपर्टी विवाद से जुड़ा है। उसने बताया कि 26 जुलाई को सुबह करीब साढ़े आठ बजे गांव का चौकीदार उसकी बेटी के घर आया था। उसकी बेटी को बताया गया कि पंचायत में उसे बुलाया गया है।

जब तक वह कुछ समझ पाती गांव के करीब छह युवक व इतनी ही महिलाओं ने उसकी बेटी को पकड़ लिया और खींचकर पंचायत में ले गए। वहां पर उसे व उसकी बेटी को पीटा गया। आरोप है कि इसमें उसकी बेटी के जेठ-जेठानी सहित करीब 12 लोग शामिल हैं। पीड़िता के पिता ने बताया कि इस दौरान उन्होंने पुलिस को भी बुलाया, लेकिन पुलिस मौके पर तमाशबीन बनी रही और कोई कार्रवाई नहीं की।

सर्वजीत की शिकायत पर तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल जांच चल रही है। सुरेश कौशिक, एसीपी, अंबाला।
;

No comments:

Popular News This Week