भर्ती घोटाले में स्वाती मालीवाल के खिलाफ केस फाइल

Tuesday, September 20, 2016

;
नईदिल्ली। दिल्ली महिला आयोग में कर्मचारियों की भर्ती के मामले में एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने सोमवार को डीसीडब्लू में जाकर दस्तावेजों की छानबीन की। आयोग की अध्यक्ष से घंटों पूछताछ की और सोमवार की देर रात स्वाति मालीवाल और अन्य के खिलाफ इस मामले में केस दर्ज कर लिया।

दिल्ली महिला आयोग में नियमों के खिलाफ जाकर की गई 85 नियुक्तियों को लेकर चल रही जांच में सोमवार को एसीबी ने आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से पूछताछ की है। करीब 2 घंटे तक एसीबी की टीम ने स्वाति मालीवाल से पूछताछ की और 27 सवालों के जवाब मांगे।

जानकारी के मुताबिक, स्वाति मालीवाल के दफ्तर से एसीबी ने कुछ कागजात भी जब्त किए हैं। उनको एक हफ्ते में एसीबी के सवालों का जवाब देना है। इस पर स्वाति ने कहा कि एसीबी ने 27 सवालों की लिस्ट सौंपी है। इसके जवाब के लिए एक सप्ताह का टाइम दिया है। आयोग में हर भर्ती पूरे सही प्रक्रिया से हुई हैं।

इस पूरे मामले पर स्वाति मालिवाल का कहना हैं कि हम काम कर रहे हैं इसीलिए हमसे सवाल पूछा जा रहा है। बरखा सिंह पर आरोप लगाते हुए स्वाति ने कहा कि हमने 1 साल में इतना काम किया हैं जितना पुरानी अध्यक्ष ने 8 साल में नहीं किया, इसीलिए हमसे सवाल पूछे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक साल के अंदर हमने 12 हजार केस अटेंड किए हैं। इसलिए हमें परेशान किया जा रहा है। पिछली महिला आयोग की अध्यक्ष ने 8 साल में केवल एक केस हैंडल किया है। हम अपना काम करते रहेंगे। जरूरी हुआ तो जेल भी जाएंगे। हम किसी भी एजेंसी के पूछताछ से डरने वाले नहीं है। हमें काम से मतलब है।

स्वाती ने आगे कहा कि महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष बरखा शुक्ल सिंह अपने 8 साल के कार्यकाल में सिर्फ 1 केस देखा जबकि वो विधायक और महिला आयोग की अध्यक्ष दोनों की सैलरी लेती रही थीं। पहले 42 लोग काम कर थे और अब 80 लोग काम कर रहे हैं। सभी नियमों और प्रक्रियाओं का पालन करके नियुक्तियां की गई हैं।
;

No comments:

Popular News This Week