आरएसएस का ज्ञापन लेने कलेक्टर/एसपी खुद चौराहे पर जा पहुंचे

Friday, September 30, 2016

जबलपुर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ भी दूसरे मानव समूहों की तरह ही एक मानव समूह है। बावजूद इसके यहां हुए प्रदर्शन के दौरान प्रशासन ने संघ के प्रदर्शन को वीवीआईपी सुविधाएं उपलब्ध कराईं। पुलिस प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए नहीं बल्कि किसी अन्य से उनकी सुरक्षा करने के लिए तैनात थी। ज्ञापन लेने के लिए कलेक्टर/एसपी खुद चलकर चौराहे पर आ गए। अब इस मामले में सवाल उठने लगे हैं। 

कांग्रेस नेता सौरभ शर्मा का कहना है कि हाईकोर्ट के आदेशों के बावजूद धरना-प्रदर्शन के लिए प्रतिबंधित मालवीय चौक जैसे व्यस्त मार्ग पर आरएसएस के प्रदर्शन को अनुमति कैसे दी गई। सत्ता के दबाव में पुलिस-प्रशासन ने सारे नियमों की अनदेखी करते हुए खुलेआम ये कृत्य किया है। आरएसएस के प्रदर्शन को अनुमति देने वाले जो भी अफसर हों उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई होनी चाहिए। 

सौरभ शर्मा के अनुसार दो साल पूर्व जेल भरो आंदोलन करने पर पुलिस ने उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर दिया था लेकिन इस बार कोई कार्रवाई नहीं की गई। गुरुवार को आरएसएस कार्यकर्ताओं से ज्ञापन लेने के लिए कलेक्टर महेशचंद्र चौधरी और एसपी डॉ. आशीष खुद मालवीय चौक पहुंच गए। ये जनता और दूसरी पार्टियों के साथ नाइंसाफी है। सौरभ शर्मा ने चेतावनी दी है कि जल्द ही जिला प्रशासन इस मामले में अपना उचित पक्ष नहीं रखता तो वे सड़कों पर उग्र प्रदर्शन करेंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week