भरी मीटिंग में जुलानिया ने राप्रसे अफसर को जलील किया

Saturday, September 24, 2016

भोपाल। आईएएस राधेश्याम जुलानिया हर महीने कुछ ना कुछ ऐसा जरूर करते हैं कि वो मीडिया की सुर्खियां बन जाएं। अब उन्होंने राज्य प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी को भरी मीटिंग में जलील किया। पीड़ित अधिकारी का नाम सुभाष द्विवेदी है। वो जिला पंचायत भोपाल में सीईओ पद पर कार्यरत हैं एवं 1996 बैच के राप्रसे अधिकारी हैं। 

जुलानिया शुक्रवार को भोपाल संभाग की बैठक ले रहे थे। भोपाल में अधूरे निर्माण को लेकर वे नाराज थे। सीईओ जिला पंचायत सुभाष द्विवेदी उनके निशाने पर थे। जुलानिया मीटिंग के दौरान आपा खोते चले गए। उन्होंने सुभाष द्विवेदी को कक्ष से बाहर निकाल दिया। कहा, तुम (द्विवेदी) रहने लायक नहीं हो। अब सीईओ की हैसियत से काम नहीं करोगे। उन्होंने कलेक्टर निशांत बरवड़े से कहा कि इसकी कुर्सी पर एडीशनल सीईओ को बिठाइए। 

सुभाष द्विवेदी अभी भी विनम्र 
यह सबकुछ यदि आईएएस रमेश थेटे जैसे किसी अधिकारी के साथ किया होता तो अब तक तंबू तन गए होते लेकिन सुभाष द्विवेदी अभी भी विनम्र बने हुए हैं। उन्होंने माना कि बैठक से उन्हें बाहर जाने के लिए कहा गया। यह बात सही है कि उनके (जुलानिया) हिसाब से परफॉर्मेंस नहीं कर पाया। इसीलिए वे नाराज हुए। कोशिश करूंगा की अब बेहतर काम कर सकूं। 

समन्वयक की सेवाएं समाप्त कर दीं
जुलानिया ने विदिशा के जिला समन्वयक (स्वच्छ भारत मिशन) नरेश श्रीवास्तव को भी डांटा। साथ ही कलेक्टर से कहा कि एक माह की तनख्वाह देकर इनकी सेवाएं समाप्त कर दी जाएं। प्रदेश भर में जिला समन्वयक संविदा पर रखे गए हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं