मंत्री गोपाल भार्गव का बेटा चिटफंड कारोबारी! वारंट जारी - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

मंत्री गोपाल भार्गव का बेटा चिटफंड कारोबारी! वारंट जारी

Monday, September 26, 2016

;
भोपाल। मप्र की सबसे बड़ी खबर आ रही है। शिवराज सरकार के पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव का बेटा अभिषेक भार्गव जो आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट का दावेदार भी है, के खिलाफ चिटफंड कंपनी संचालित कर निवेशकों से 80 करोड़ की ठगी का मामला दर्ज हुआ है। इस मामले में रायसेन की एक अदालत से ​अभिषेक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट भी जारी हुआ है। अभिषेक इस समय युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष हैं एवं युवा मोर्चा में प्रदेश अध्यक्ष पद के दावेदार भी हैं। 

वारंट अभिषेक के साथ 2 अन्य लोगों के खिलाफ भी जारी हुआ है। सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार अभिषेक भार्गव SHRADDHA SABURI COMMODITIES PRIVATE LIMITED नाम की कंपनी में डायरेक्टर हैं। इस कंपनी का रजिस्टर्ड एड्रेस 114-115, FF, Vishwadeep Building Plot No-4, District Center, Janakpuri New Delhi है। कंपनी के प्रबंधक बसंत उपाध्याय पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं। बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में अभिषेक सहित पांच आरोपी अब भी फरार हैं। जो आरोपी फरार हैं उनके नाम नितिन बलेचा हरियाणा, जितेंद्र सिंह चौहान, पंकज कुमार,दीपक गावा हरियाणा और अभिषेक भार्गव हैं।

चिटफंड कंपनी के नाम पर लोगों से 80 करोड़ रुपए ठगने वाला बसंत उपाध्याय 6 अक्टूबर 2015 को भोपाल में पकड़ा गया था। उस पर भोपाल, सागर और रायसेन के लोगों के साथ करीब 80 करोड़ से अधिक की ठगी करने का आरोप है। उसके खिलाफ इन शहरों में लोगों द्वारा ठगी करने का मामला दर्ज है। पुलिस अगस्त, 2015 से उसकी तलाश कर रही थी। उसके टारगेट पर रिटायर्ड कर्मचारी और महिलाएं रहती थीं।

पाटर्नरों के साथ मिलकर ठगा फिर भाग गए
शहर के मुखर्जीनगर निवासी बसंत उपाध्याय ने सिरका हरियाणा निवासी नितिन बलेचा, उसके पिता कमलराम बलेचा, मेघा सिंह इंदौर और विपेंद्र चौहान के साथ मिलकर भोपाल, सागर और रायसेन में उक्त कंपनियों के कार्यालय खोले थे। इन स्थानों पर भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फंसाकर उनकी जमापूंजी को दोगुना करने का लालच देकर इंवेस्ट करवा दिया। बाद में यह लोग इन शहरों से अपना कारोबार समेट कर फरार हो गए। अपनी जमा पूंजी डूबने के बाद से लोग लगातार उनकी शिकायत कर रहे थे। ऐसा बताया जा रहा है रायसेन के 125, भोपाल के 100 और सागर के 150 से अधिक लोगों को ठगी का शिकार बनाया गया है।
ABHISEK BHARGAV इन कंपनियों में भी हैं डायरेक्टर
SHRADDHA SABURI COMMODITIES PRIVATELIMITED : Director, 23 March 2012
SAGARSHREE A.S. BUILDERS PRIVATE LIMITED: Director, 14 June 2013
SAGARSHREE HOSPITAL & RESEARCH INSTITUTE PRIVATE LIMITED: Director, 19 July 2013

श्रद्धा सबूरी कमोडिटीज प्राइवेट लिमिटेड में कुल 3 डायरेक्टर हैं
BASANT UPADHYAY: Director, 23 March 2012
ABHISEK BHARGAV: Director, 23 March 2012
KAWAL NAIN VALECHA: Director, 23 March 2012
;

No comments:

Popular News This Week