गौ-रक्षा के लिए दिग्विजय सिंह के विधायक पुत्र का प्रदर्शन, बाजार बंद

Friday, September 9, 2016

;
भोपाल। गौ-रक्षा के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बयान के बाद एक विचारधारा विशेष के लोग तो पीछे हट गए लेकिन कांग्रेस ने इसे मुद्दा बना लिया। मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के विधायक पुत्र जयवर्धन सिंह ने आगर-मालवा जिला स्थित सुसनेर में गायों की दुर्दशा को लेकर धरना दिया। 

उन्होंने गौसंवर्धन बोर्ड के उपाध्‍यक्ष संतोष जोशी और भाजपा नेताओं पर गौवंश के अवैध परिवहन के लिए सीधा-सीधा आरोप लगाया। जिले के सुसनेर के ग्राम सालरिया में बने गौ-अभ्‍यारण्‍य को शुरू करने और सड़कों पर घूम रहीं लावारिस गायों को विस्‍थापित करने सहित अन्‍य मांगों को लेकर कांग्रेसियों ने सुसनेर नगर बंद करा दिया। 

कांग्रेसियों ने गायों को लेकर भाजपा नेताओं पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने इस संबंध में सुसनेर एसडीएम जीएस डावर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। कांग्रेसियों ने मांग कि है कि क्षेत्र में हजारों की संख्‍या में घूम रहीं लावारिस गायों को सालरिया में बने गौ-अभ्‍यारण्‍य में शीघ्र विस्‍थापित कराया जाए। एक माह बाद कांग्रेस 'चलो सालरिया अभियान' चला कर लावारिस गायों को लेकर अभ्‍यारण्‍य पहुंचाएगी और उसका उद्घाटन कर देगी।

गौरतलब है कि साल 2011 में मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सालरिया में गौ-अभ्‍यारण्‍य के लिए करीब ढाई हजार बीघा जमीन आवंटित की थी। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने इस गौभ्‍यारण्‍य का भूमिपूजन 24 दिसंबर 2012 में किया था, जिस पर करोड़ों रुपए से ज्‍यादा की लागत के गायों को रखने के लिए शेड, वेटरनिटी डिपार्टमेंट के लिए ब्लॉक और भूसा रखने के लिए गोडाउन तैयार हैं, लेकिन आज तक इसका उद्घाटन नहीं हो पाया है।

ऐसे में समिति के माध्‍यम से इन गौवंश को ट्रकों में लाद कर झाबुआ और अलीराजपुर जिले के आदिवासी किसानों को पालने के नाम पर दिया जा रहा है। विधायक जयवर्धन सिंह‍ ने आरोप लगाया कि गौवंश झाबुआ और अलीराजपुर की बजाए गुजरात और महाराष्‍ट्र में किसी अन्‍य प्रायोजन के लिए भेजा जा रहा है।
;

No comments:

Popular News This Week