मुलायम के घर में महाभारत: गुरुवार का पूरा एपिसोड यहां पढ़ें

Thursday, September 15, 2016

लखनऊ। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के घर में महाभारत शुरू हो गई है। कौन कृष्ण और अर्जुन और कौन दुर्योधन यह आप ही तय कर लीजिए। हम आपको बताने जा रहे हैं गुरूवार का एपिसोड। क्या क्या हुआ, किसने क्या कहा: 

मेरे मंत्रालय मुझे लौटा दो
सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के साथ मीटिंग के कुछ घंटों बाद ही शिवपाल ने पार्टी प्रमुख से उनके सभी मंत्रालय वापस लौटाने को कहा। शिवपाल ने मुलायम से कहा है कि वे यूपी का प्रदेश अध्यक्ष बनने को तैयार हैं और उन्हें अखिलेश के साथ सरकार में काम करने को लेकर कोई परेशानी नहीं है। यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारी में वे अखिलेश के साथ कंधे से कंधे मिलाकर समाजवादी पार्टी के लिए काम करेंगे।

पहले बता देते तो इस्तीफा दे देता 
सपा के राज्यसभा सांसद और अखिलेश के चाचा रामगोपाल यादव ने कहा, 'यदि अखिलेश यादव को सपा प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाना था तो पहले बताना चाहिए था। यदि अखिलेश को कहा जाता तो वे खुद पद छोड़ देते। 

एक आदमी पार्टी को बर्बाद कर रहा है 
पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव लखनऊ पहुंचे और करीब एक घंटे तक  मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से उनके आवास पर मुलाकात की। मुलाकात के बाद प्रेस कांफ्रेंस में रामगोपाल यादव ने कहा कि एक आदमी पार्टी को बर्बाद करने पर आमादा है। वह व्यक्ति नेताजी के सरल व्यवहार का फायदा उठाकर काम करवा रहा है। यह आदमी शुरू से ही पार्टी को बर्बाद करने पर तुला है. अब मुख्यमंत्री कब तक बर्दाश्त करेंगे।

पार्टी के कार्यकर्ता उनका इंतजाम कर देंगे
ईटीवी यूपी के सीनियर एडिटर ब्रजेश मिश्र के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में सपा महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने कहा कि पार्टी और कार्यकर्ताओं में यह धारणा है कि अमर सिंह जो कर रहे हैं वह गलत है। अमर सिंह पार्टी का लगातार अपमान करते रहे हैं। अमर सिंह का मानना है कि उनका काम होता रहे, चाहे पार्टी भाड़ में जाए। उन पर पहले भी एक्शन हो चुका है अगर नहीं सुधरे तो पार्टी और कार्यकर्ता उनका इंतजाम कर देंगे।

ये दो अब्दुल्ला दीवाने
मायावती ने कहा, “प्रदेश की जनता का व्यापक हित देखते हुए मुलायम सिंह यादव को अपने पुत्र मोह का त्याग करते हुए सक्रिय राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए.”
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि मुलायम सिंह यादव अनुभवी और मझे हुए नेता हैं। उनको यह पता है कि प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार, अपराध, गुंडाराज, जमीनों पर अवैध कब्जे और महिलाओं पर हो रहे अपराध के कारण सपा सरकार बुरी तरह फेल हो गई है। इसलिए जनता का ध्यान इस तरफ से हटाने के लिए और अपने पुत्र प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की इमेज बिल्डिंग का यह शुद्ध नाटक कर रहे हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week