पेंशनर्स अब घर बैठे बनवा सकेंगे जिंदा होने का प्रमाण पत्र

Thursday, September 22, 2016

भोपाल। वृद्ध पेंशनर्स को हर साल अपने जिंदा होने का सबूत देना पड़ता है। बीमार और शारीरिक रूप से कमजोर हो गए पेंशनर्स के लिए यह सबसे तनाव भरा विषय होता है परंतु अब ऐसा नहीं होगा। इस दिक्कत को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने जीवन प्रमाण पत्र (डिजिटल लाइफ सार्टिफिकेट) को सरल बना रही है। 

इसके तहत पेंशनर आधार कार्ड के जरिए यह प्रमाणित कर सकेंगे कि वे जीवित है। यही नहीं आधार को ईमेल से जोड़ा जाएगा। इससे उन्हें आधार सेंटर पर भी नहीं जाना होगा। बस ईमेल पर ऑथिंटिफिकेशन स्टेटमेंट भेजना होगा। इससे पेंशनर्स को पेंशन मिलने में आसानी होगी।

पेंशन हर महीने मिलती रहे इसके लिए हर साल नवंबर-दिसंबर में पेंशनरों को बैंकों में जीवित रहने का प्रमाण-पत्र देना होता था। दो साल पहले बैंक की बजाय पेंशनरों को आधार सेंटरों से जोड़ा गया लेकिन फिर भी यह दिक्कत थी, उन्हें सेंटर पर जाना होगा। अब यूआईडीएआई के मुताबिक कदम जीवन प्रमाण 2.0 बनाया गया है। 

अभी तक पूरे देशभर के करीब 16.7 लाख पेंशनर्स जीवन प्रमाण पत्र के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। आधार सेंटर का संचालन करने वाली अतिशय लिमिटेड के जीएम कुमोद कर्ण का कहना है कि आधार से लिंक होने से ऑनलाइन लाइफ सार्टिफिकेट बनवाए जा सकते हैं। इससे पेंशनर्स कम समय में बिना कार्यालयों में भटके सार्टिफिकेट बनवा कर संबंधित विभागों से पेंशन प्राप्त कर सकते है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week