विधायकों की चिंता: सड़कों के गड्डों में गिर जाएंगे भाजपा के वोट - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

विधायकों की चिंता: सड़कों के गड्डों में गिर जाएंगे भाजपा के वोट

Saturday, September 10, 2016

;
भोपाल। भाजपा विधायकों को अब चुनाव की चिंता सताने लगी है। खराब सड़कों पर कल तक चुप रहने वाले विधायक अब मुखर होने लगे हैं। 30 से ज्यादा विधायकों ने लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह को चिट्ठी लिखकर अपने इलाकों की सड़कें बनवाने की मांग की है। विधायकों का कहना है कि खराब सड़कों का सीधा असर चुनाव पर होगा। वोट मांगने में काफी परेशानी आएगी। कई विधायकों ने भोपाल आकर मंत्री से यहां तक कहा है कि सड़कें नहीं बनीं तो आने वाले चुनाव में जनता को जवाब नहीं दे पायेंगे।

डेढ़ साल से लिख रहा हूं, अब तक नहीं सुधरीं
चंबल क्षेत्र के सुमावली विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार ने अपने इलाके में सड़कों के निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी मंत्री और मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखी है। वे कहते हैं कि डेढ़ साल से चिट्ठियां लिख रहा हूं। बारिश के बाद क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की दुर्दशा फिर से बताई है। क्षेत्र में कुछ निर्माण कार्य चल रहे हैं लेकिन काम में तेजी नहीं है। बागचीखरी चौखड्डा से बागचीखरी मार्ग  को चौड़ीकरण की मांग की है। जखोरन से ऐसाहा मार्ग, महाराजपुर से खनेरा रोड मांगा है।

17 किलोमीटर की सड़क के लिए 70 बार कोशिश कर ली
बुंदेलखंड के निवाड़ी विधायक अनिल जैन ने पीडल्यूडी मंत्री से निवाड़ी से टहरका रोड़ मांगी है। करीब 17 किलोमीटर की इस रोड के लिये बार-बार लिखा जा रहा है। ओरछा से जामुनी पुल मार्ग बहुत जर्जर है। बरसात के चार माह मार्ग को बंद करना पड़ता है। छतरपुर, दमोह और पन्ना के कई विधायकों ने भी सड़कों की दुर्दशा विभागीय मंत्री को बताई है।

70 साल से सड़क नहीं है, अब तो बनवा दो 
मालवा क्षेत्र के मंदसौर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने मंत्री को प्रस्ताव भेजे हैं। उन्होंने बहपुर से माहूगढ़ की मांग की है। यह सड़क 70 साल बाद भी नहीं बनी है। दीक्षालाल से मुंहालालाखेड़ा, खांबाखेड़ा, गुरुड़या, पालसोड़ा और मंदसौर सर्किट हाउस से खिलकीपुरा ग्राम पंचायत तक सड़क निर्माण कराने के लिए लिखा है। सिसोदिया कहते हैं कि कुछ ऐसी सड़कें हैं जो सीएम के बिना मंजूर नहीं होंगी। उनके लिये प्रयास कर रहा हूं। सभी मांगी सड़कें 5 किमी के दायरे में हैं।
;

No comments:

Popular News This Week