बलूचिस्तान: मोदी नहीं, पाकिस्तान के साथ है अमेरिका - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

बलूचिस्तान: मोदी नहीं, पाकिस्तान के साथ है अमेरिका

Tuesday, September 13, 2016

;
नईदिल्ली। भारत में कुछ लोग अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की दोस्ती के उदाहरण देते हैं लेकिन अमेरिका ने बलूचिस्तान मामले में मोदी नहीं बल्कि पाकिस्तान का साथ दिया है। 

अमेरिकी विदेश विभाग के स्पोक्सपर्सन जॉन किरबी ने सोमवार को कहा, 'पॉलिसी के मुताबिक हम पाकिस्तान की एकता-अखंडता को सपोर्ट करते हैं। हम किसी भी रूप से बलूचिस्तान की आजादी को सपोर्ट नहीं करते। किरबी से सवाल किया गया था कि बलूचिस्तान में अंदर और बाहर से पाक से आजादी की बात उठ रही है और बलूच नेता वहां पाक आर्मी के ह्यूमन राइट्स वॉयलेशन की बात कह रह रहे हैं। किरबी ने कहा, 'बलूचिस्तान पर अमेरिकी स्टेंड की बात ही कहां आती है? क्योंकि भारत के पीएम ये मुद्दा उठा चुके हैं।'

बता दें कि नरेंद्र मोदी ने इंडिपेंडेंस डे की स्पीच में बलूचिस्तान का जिक्र किया था। इसके बाद से बलूच नेताओं ने दुनिया भर में अपनी आजादी की बात कही थी और ब्रिटेन, साउथ कोरिया, ऑस्ट्रेलिया में अपने यहां हो रहे ह्यूमन राइट्स वॉयलेशन को लेकर प्रदर्शन किए। बलूच नेता चाहते हैं कि बलूचिस्तान के मामले में भारत उनकी वैसी ही मदद करे जैसी की बांग्लादेश के मामले में की थी। अमेरिका तब भी पाकिस्तान के साथ था, अब भी वही शब्द दोहरा रहा है। देखना यह है कि क्या मोदी वह कदम उठा पाएंगे जो इंदिरा गांधी ने उठाए थे। 
;

No comments:

Popular News This Week