पढ़िए हाईप्रोफाइल फैमिली की पढ़ी लिखी बहु ने किस निमर्मता से अपनी बेटी को मार डाला

Sunday, September 11, 2016

;
जयपुर। यह वारदात कई सामाजिक सिद्धांतों को झुठला रही है। कौन कहता है कि पढ़े लिखे लोग दकियानूसी नहीं होते। जमाना बदल गया है अब तो मां खुद अपने बच्चों की हत्याएं कर रहीं हैं। नेहा के नाखूनों में माही का खून मिला है। नेहा ने डीयू से इंग्लिश में ग्रेजुएशन किया है और वो राजस्थान के करोड़पति परिवार की बहु है। फिर भी उसने अपनी 4 माह की बेटी को पहले नाखून से नौंचा और फिर चाकू घोंपकर मार डाला। माही के गले में नेहा के नाखून के 13 निशान मिले हैं। 

राजस्थान की हाईप्रोफाइल फैमिली। करोड़ों का कारोबार। प्यार करने वाला पति और दुलान देने वाला ससुर। उसके बाद भी नेहा ने यह घिनौनी वारदात की। पूछताछ ने उसने बताया कि मर्डर से 7 दिन पहले भी बच्ची को तकिये से मुंह दबाकर मारने की कोशिश की थी लेकिन इस बीच किसी के आने की आहट पर बच्ची को छोड़ दिया। मासूम का बदन नीला पड़ गया था। फैमिली वाले हॉस्पिटल ले गए, जहां 7 दिन तक उसका इलाज चला। इसके बाद 25 अगस्त को उसे छुट्‌टी मिल गई थी। बच्ची के हॉस्पिटल से घर आने के अगले ही दिन 26 अगस्त की रात को नेहा ने मासूम बेटी के गले पर चाकू से तीन वार किए। इसके बाद कंबल में लपेटकर घर की तीसरी मंजिल पर पहुंची और एसी के बॉक्स में उसे छिपा दिया। घटना के बाद नेहा ने चाकू और अपने हाथ धोए और बेडरूम में आकर सो गई।

उसकी करतूत किसी को पता न चले, इसलिए उसने घर में लगे 16 सीसीटीवी कैमरे 15 मिनट के लिए स्विच ऑफ कर दिए थे। फिर करीब डेढ़ घंटे बाद खुद ही शोर मचाया कि कोई बच्ची को उठा ले गया। खोजबीन के दौरान ही जेठानी ने एसी के डिब्बे में लहूलुहान कम्बल देखा तो माही के मरी पड़ी होने का पता चला। नेहा चार दिन की पुलिस रिमांड पर है। पुलिस ने चाकू बरामद कर लिया है।

वह काफी-पढ़ी लिखी है। उसने दिल्ली यूनिवर्सिटी से इंग्लिश में ग्रेजुएशन किया था। उसके मोबाइल डेटा से पता चला कि वह अक्सर मोबाइल पर बेटा पैदा करने के तरीके और दवाइयों के बारे में गूगल सर्च करती थी। बता दें कि 25 अगस्त को यह शिकायत आई थी कि नेहा की बेटी लापता है। 26 अगस्त को बेटी की हत्या के बारे में पता चला था। 

सिर्फ जलन के कारण अपनी बेटी को मार दिया
यह वारदात राजस्थान दाल और तिलहन व्यापार मंडल के प्रेसिडेंट बाबूलाल गोयल के घर में हुई। आरोपी नेहा बाबूलाल के भतीजे की पत्नी है। यह एक संयुक्त हिंदू परिवार है। नेहा ने सिर्फ अपनी जिठानी और देवरानी से जलन के कारण अपनी बेटी को मार दिया। उनकी गोद में एक बेटी और एक बेटा था लेकिन नेहा को दूसरी बार भी बेटी ही हुई। वो बेटा चाहती थी। मोबाइल रिकॉर्ड के अनुसार उसने इसके लिए काफी समय तक गूगल सर्च भी किया। एक अनुष्ठान भी करवाया। वो आश्वस्त थी कि बेटा होगा, लेकिन बेटी पैदा हुई। वो चाहती थी कि इसे मारने के बाद अगली बार बेटा पैदा करेगी। 
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week