धार में छात्रावास अधीक्षिका और बीईओ के बीच मारपीट

Saturday, September 24, 2016

;
धार। यहां एक कन्या छात्रावास की महिला अधीक्षक ममता गिरवाल एवं बीईओ प्रमोद माथुर के बीच जमकर मारपीट हो गई। महिला अधीक्षक को अस्पताल दाखिल किया गया है। उनके साथ करीब 15 छात्राओं को भी अस्पताल भेजा गया है। सबका कहना है कि बीईओ ने उसके साथ मारपीट की। जबकि बीईओ का कहना है कि अधीक्षिका सहित छात्राओं ने मिलकर उनके साथ मारपीट की है। 

धार जिले के नालछा स्थित आदिवासी कन्या छात्रावास के पास एक अन्य उत्कृष्ट कन्या छात्रावास भी बना हुआ है। जहां के दो चपरासी रणजीत और कमल मावी ने कुछ दिनों पहले छात्राओं के फोटो और वीडियो बनाए। छात्रावास अधीक्षिका ममता गिरवाल ने इस बात की शिकायत बीईओ प्रमोद माथुर से की, लेकिन जब बीईओ पूरे मामले की जांच करने छात्रावास पहुंचे तो अधीक्षिका से उनका विवाद हो गया।

देखते ही देखते दोनों के बीच जमकर मारपीट भी हुई, जिससे छात्रावास की छात्राएं घबरा गईं और उनकी तबीयत खराब हो गई। नालछा के अस्पताल में 15 छात्राओं का उपचार करवाया गया। वहीं, तीन छात्राओं सहित छात्रावास अधीक्षिका ममता गिरवाल को भी जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

छात्रावास अधीक्षिका ममता गिरवाल और छात्रावास की छात्राओं ने विकासखंड शिक्षा अधिकारी प्रमोद माथुर पर मारपीट के गंभीर आरोप लगाए हैं और उन पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही नालछा थाने में उन्होंने प्रमोद माथुर के खिलाफ आवेदन दिया है।

नालछा के विकासखंड शिक्षा अधिकारी प्रमोद माथुर उनके ऊपर लगाए गए आरोपों को निराधार बता रहे हैं। साथ ही उन्होंने छात्रावास अधीक्षिका ममता गिरवाल पर मारपीट के आरोप लगाए हैं और उन्होंने भी नालछा थाने में भी शिकायत दर्ज कराई है।

घटना की सूचना मिलने पर आदिवासी विकास विभाग के आला अधिकारी भी हरकत में आए और उन्होंने तुरंत छात्रावास का दौरा किया। साथ ही बीमार छात्राओं और अधीक्षिका से भी उन्होंने बात की। आदिवासी विकास विभाग के एडिशनल सहायक आयुक्त प्रकाशचंद्र सोनी का कहना था कि, पूरे मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। उन्होंने एक जांच समिति भी बना दी है, जो कि अलग से जांच करके रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी और जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर कार्रवाई करेगी।

पूरे मामले को लेकर पुलिस ने भी दोनों पक्षों के आवेदन ले लिए हैं। थाना प्रभारी भंवरसिंह वसुनिया का कहना है कि, मामले की जांच की जाएगी और जो भी दोषी पाया जाएगा उस कार्रवाई की जाएगी।
;

No comments:

Popular News This Week