मियां सूफियाना जी को पुलिस ने धर लिया, खुद को बचाने कोई तंत्र नहीं सूझा

Friday, September 9, 2016

;
सुधीर ताम्रकार/बालाघाट। तंत्र मंत्र के नाम पर हजारों ठग रोज लाखों लोगों को लूटते हैं। पुलिस केवल पुख्ता शिकायतों पर ही कार्रवाई करती है जबकि कई अखबार ऐसे ठगों को बढ़ावा देते हैं। ऐसा ही मामला यहां सामने आया है। कुछ अखबारों ने ठग तांत्रिकों के विज्ञापन छापे और सैंकड़ों लोग इनके झांसे में आ गए। एक महिला ने हिम्मत दिखाई तब कहीं जाकर पोल खुली। यदि अखबार थोड़े से पैसे का लालच छोड़ दें तो हजारों लोग ठगी का शिकार होने से बच सकते हैं। 

महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कतारे हुए बताया कि अखबार में विज्ञापन पढ़कर वो भी तांत्रिक के पास गई थी। उसका बेटा बीमार था। 2 तांत्रिको ने बेटे के इलाज के नाम पर उसके साथ ठगी की। पहले 3200रू खर्चा बताया फिर उल्लु की बली के नाम पर 30 हजार रू की मांग की और कहा की अपने पति को मत बताना और अकेले ही आना। जिसके बाद तांत्रिको बातों पर महिला को शक होने के बाद महिला कोतवाली मे शिकायत करने पहुची। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। 

दोनों व्यक्तियों पर तांत्रिक पद्धति से सभी तरह के इलाज करने और लोगों से ठगी करने का आरोप लगा है। ये दोनों व्यक्ति रामपुर जिला उत्तरप्रदेश के निवासी है। इन दोनों आरोपियों ने ठगी करने के लिये बालाघाट के कुछ अखबारों में बकायदा विज्ञापन जारी कराकर अपनी तांत्रिक ईलाज पद्धति का प्रचार प्रसार भी किया था। जिसके झांसे में आकर कई लोगों ने इनसे इलाज कराया लेकिन मान सम्मान की वजह से अभी कुछ लोग सामने नही आये है। चॅूकि महिला अपने बेटे की बीमारी से परेशान थी। इस वजह से वो भी इनके चंगुल में आ गई।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week