पाकिस्तान को सलाह देने से पहले अपनी गिरेबां झांक लें मोदी: मायावती

Sunday, September 25, 2016

;
लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने उरी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर रविवार को निशाना साधते हुए उन्हें देश की जनता को गुमराह करने वाला बताया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के नेताओं को गरीबी, बेरोजगारी और अ‌शिक्षा दूर करने की सलाह देने वाले पीएम मोदी को पहले अपने गिरेबान में झांककर देखना चा‌हिए कि उन्होंने खुद क्या किया?

मायावती ने कहा कि पाकिस्तान मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी जनता को गुमराह कर रहे हैं। देश की जनता उड़ी हमले में शहीद हुए जवानों के मुद्दे पर आक्रोशित है, इसलिए मोदी उनका ध्यान हटाने की कोशिश कर रहे हैं। मायावती ने ये बातें लखनऊ में बसपा मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस में कही।

मायावती ने कहा कि मोदी सरकार देश की जनता से किया गया कोई भी वादा पूरा करने में नाकाम रही है। इसलिए दिल्ली, बंगाल व केरल में भाजपा की हार हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है। पाकिस्तान की सरकार को तो सलाह दे रही है कि गरीबी, बेरोजगारी व अशिक्षा से लड़ें पर वो खुद ऐसा नहीं कर पा रही है।

दलित-ब्राह्मण मिलकर बनाएंगे बसपा की सरकार : सतीश मिश्र
बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने गोरखपुर में बसपा द्वारा आयोजित सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय भाईचारा सम्मेलन को संबोधित करते कहा कि प्रदेश की शांति और विकास के लिए बहन मायावती के नेतृत्‍व में बसपा की सरकार चाहती है। जनता ने अपना मन बना लिया है।

उन्‍होंने बसपा के पक्ष में ब्राह़मण समाज के एकजुट होने का आह़वान करते हुए कहा कि पिछले उदाहरण देखें तो प्रदेश में सरकार बनाने के लिए तीस फीसद मतों की जरूरत होती है। अगले विधानसभा चुनाव में इस बार प्रदेश के चौबीस फीसद दलित एवं चौदह फीसद ब्राह़मण मतदाता बसपा के साथ एकजुट हैं। ये मतदाता मिलकर बहन मायावती के नेतृत्‍व में बसपा की सरकार बनाएंगे। इसमें मुस्लिम, राजपूत एवं पिछडीी जाति के मतदाताओं का भी पूरा सहयोग मिलेगा।

उन्‍होंने कहा कि बसपा सर्व समाज का ध्‍यान रखने वाली पार्टी है। जनता जानती है कि बसपा की सरकार में सबको विकास और सुरक्षा की गारंटी मिलती है।उन्‍होंने भाजपा एवं सपा पर जमकर हमला किया। प्रदेश सरकार पर भ्रष्‍टाचार एवं भाई भतीजावाद को बढावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि अखिलेश सरकार ने आगरा-लखनऊ एक्‍सप्रेस वे के लिए चौबीस हजार करोड रुपये काा बजट निर्धारित किया है। यह बजट वास्‍तविक खर्च से अधिक है। हमने स्‍वर्ण व्‍यसाइयों से बात की तो उनका कहना है कि इतने धन में तो इस सडक प सोने की परत चढा दी जाएगी।
;

No comments:

Popular News This Week