अब बेटे के नाम से बाप करेगा क्रिकेट का कारोबार ?

Tuesday, September 13, 2016

नईदिल्ली। मनीलांड्रिंग मामले में फरार चल रहे आईपीएल के पूर्व चेयरमैन और आरसीए प्रेसिडेंट ललित मोदी अब अपने बेटे के नाम से भारत में क्रिकेट का कारोबार करेंगे। उन्होंने बड़ी ही चतुराई के साथ अपने बेटे को अलवर जिला क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष बनवा दिया है जबकि अलवर क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव पर हाईकोर्ट का स्टे लगा हुआ है। इस चुनाव को लड़ने से पहले रुचिर मोदी के नाम पर अलवर में जमीन खरीदी गई ताकि उसे लोकल केंडिडेट बताया जा सके। बता दें कि ललित मोदी दिल्ली के मारवाड़ी परिवार से आते हैं। रुचिर मोदी ने अलवर के राजगढ़ में जुलाई में कृषि और रेजिडेंस के लिए जमीन खरीदी थी और इसके बाद उन्होंने चुनाव लड़ा है। 

एसोसिएशन के आजीवन सदस्य ने चुनाव को बताया अवैध
जिला क्रिकेट एसोसिएशन के आजीवन सदस्य और संयुक्त सचिव पवन शर्मा ने चुनाव को अवैध बताते हुए कहा है कि अलवर सब रजिस्ट्रार ने 13 दिसंबर 2010 को चुनाव पर रोक लगा दी थी जिसके बाद सब रजिस्टार के आदेश के खिलाफ पवन गोयल की ओर से दायर याचिका पर राजस्थान उच्च न्यायालय ने 18 दिसंबर 2010 को यथा स्थिति के आदेश जारी कर दिए।

इसके बाद पवन गोयल ने 20 दिसंबर 2010 को जिला क्रिकेट एसोसिएसन के चुनाव करवा दिए थे। जिसके खिलाफ अलवर के 15 क्रिकेट क्लब उच्च न्यायालय में चले गए। इसके बाद उच्च न्यायालय ने 18 दिसंबर 2010 के आदेश को यथा स्थिति बनाए रखने के मामले में 13 मई 2011 को आदेश जारी करते हुए चुनाव निरस्त कर दिए थे। इसके बाद चुनाव नही हुए और पुरानी स्थिति ही चली आ रही थी। 21 जुलाई 2016 पवन गोयल ने उच्च न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर अपना वाद वापिस ले लिया लेकिन सब रजिस्टार की ओर से लगी रोक अभी लागू है इसलिए चुनाव नही कराए जा सकते है।

चुनाव के खिलाफ जाएंगे अदालत
उन्होंने कहा इस चुनाव की सूचना उन्हें नही दी गई। इसलिए वह इसके खिलाफ अदालत में जाएंगे क्योंकि रजिस्टार के यहां से एडाप्ट कमेटी बना कर चुनाव कराए जाने थे लेकिन ऐसा कुछ नही किया गया। इसलिए वे इस चुनाव के खिलाफ कोर्ट में जाएंगे। अलवर जिला क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव और आरसीए में कोषाध्यक्ष पवन गोयल ने बताया कि 22 अगस्त को अलवर क्रिकेट एसोसिएशन चुनाव कराए गए है। और उसमें रुचिर मोदी को अध्यक्ष बनाया गया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week