नीमच में पुलिस प्रताड़ना से युवक की मौत, दलित समाज उग्र

Monday, September 5, 2016

नीमच। पुलिस प्रताड़ना के कारण हुई एक दलित युवक की मौत के बाद दलित समाज उग्र हो गया है। कांग्रेस भी साथ आ गई है। सभी ने मिलकर आज कलेक्टर और एसपी के आॅफिसों का घेराव कर ज्ञापन सौंपा। 

मध्य प्रदेश के नीमच में पुलिस की प्रताड़ना के बाद हार्टअटैक से हुई दलित व्यक्ति की मौत का मुद्दा गरमा गया है। मामले में कांग्रेस पार्टी और दलित संगठनों ने पुलिस और सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल कलेक्टर और एसपी ज्ञापन सौंपा है। सर्व मेघवंश समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभुलाल चंदेल ने इस मामले में दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ उन पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। साथ ही कार्रवाई न होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।


गौरतलब है कि एक मामले को लेकर मृतक प्रभुलाल खटीक के साथ पुलिसकर्मियों ने जमकर मारपीट की थी और उससे छोड़ने के नाम पर रुपये भी वसूले थे। उसी के बाद अगले ही दिन प्रभुलाल की मौत हो गई थी। मृतक की लाश को जिला अस्पताल में पीएम के दौरान रखकर परिवाजनों ने धरना भी दिया था, जिस पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कार्रवाई का भरोसा भी दिलाया था, लेकिन ठोस कार्रवाई नहीं होने के चलते इस मामले ने तूल पकड़ लिया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week