भोपाल में ABVP के प्रदर्शनकारियों को दी गईं थीं VIP सुविधाएं - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

भोपाल में ABVP के प्रदर्शनकारियों को दी गईं थीं VIP सुविधाएं

Thursday, September 22, 2016

;
भोपाल। बुधवार को राजधानी में एबीवीपी ने प्रदर्शन किया। करीब 10 हजार कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली और उच्च शिक्षामंत्री ने प्रदर्शनस्थल पर पहुंचकर उनकी दोनों मांगे पूरी कर दीं। यह सबकुछ एक ड्रामे की तरह था जिसकी स्क्रिप्ट पहले से लिखी जा चुकी थी। यदि 10 नेता भी आकर मांग करते तो पूरी हो जाती। सवाल यह है कि 10 हजार का प्रदर्शन क्यों। इससे बड़ा सवाल यह है कि जिस राजधानी में धरना देने की अनुमतियां मुश्किल से मिलतीं हैं, उसी राजधानी में एबीवीपी के प्रदर्शनकारियों को वीआईपी सुविधाएं दीं गईं। 

शहर के बीचोबीच व्यस्ततम माता मंदिर इलाके के आसपास के रास्तों को बंद कर दिया गया। बुधवार को चार घंटे तक न्यू मार्केट, नेहरू नगर, कोटरा, माता मंदिर क्षेत्र और टीटी नगर के लोगों को परेशानी उठानी पड़ी। ट्रैफिक डायवर्सन के कारण लोगों को तीन से पांच किलोमीटर तक चक्कर लगाकर जाना पड़ा। यह पहला मौका है जब कलियासोत ग्राउंड से टीटी नगर टीन शेड पर आने के लिए इतनी बड़ी संख्या में इकट्ठा हुए लोगों को अनुमति दी गई। 

8 लाख आम नागरिक परेशान हुए
एबीवीपी के इस प्रदर्शन में छात्रों की यह रैली शबरी नगर, नेहरू नगर चौराहा, मैनिट चौराहा, प्लेटिनम प्लाजा के सामने से होते हुए टीन शेड पहुंची। यहां पहले से ही इन्हें रोकने के लिए दो स्थानों पर बेरीकेड्स लगाकर रखे थे। रैली के कारण पुलिस ने 11 बजे से ही नेहरू नगर चौराहा से कलियासोत ग्राउंड की ओर जाने वाले वाहनों को रोकना शुरू कर दिया। कोटरा में बुधवार को लगने वाला साप्ताहिक हाट भी शाम 4 बजे बाद से ही लगना शुरू हुआ। नेहरू नगर से लेकर टीटी नगर तक मैनिट चौराहा पर माता मंदिर चौराहा ट्रैफिक देर तक रुका रहा। टीन शेड की दुकानें भी बंद रही। इस दौरान करीब 8 लाख आम नागरिक परेशान हुए। 

पुलिस ने लाठी नहीं रास्ता दिखाया
राजधानी में कोई भी प्रदर्शन हो पुलिस लाठी लेकर खड़ी मिलती है लेकिन एबीवीपी के प्रदर्शन में पुलिस स्वागत अधिकारी की तरह नजर आई। आने वाले कार्यकर्ताओं को प्रदर्शन स्थल तक पहुंचने का रास्ता बताया गया। किसी को कोई तकलीफ ना हो इस बात का पूरा ध्यान रखा गया। प्रदर्शनकारियों के लिए कई जगह ट्रैफिक रोक दिया गया। केवल सरकार की ओर से यहां भोजन व्यवस्था नहीं थी, बाकी सारी सुविधाएं इस प्रदर्शन के दौरान सरकार की ओर से उपलब्ध कराई गईं। 
;

No comments:

Popular News This Week