गुजरात में अमित शाह को 5 मिनट भी बोलने नहीं दिया, उल्टी पड़ गई चाल

Friday, September 9, 2016

सूरत/गुजरात। नरेन्द्र मोदी और अमित शाह का गढ़ गुजरात 'अमित शाह गो बैक' के नारों से गूंज गया। हालांकि पुलिस ने सभा से पहले ही संभावित उपद्रवियों को हिरासत मेें ले लिया था फिर भी उनकी सभा में जमकर हंगामा हुआ। कुर्सियां फैंकी गईं। हालात यह बने कि अमित शाह 5 मिनट भी भाषण नहीं दे पाए। प्रदर्शनकारियों ने 'हार्दिक हार्दिक' के नारे भी लगाए और बोलतें फैंकी। बता दें कि अमित शाह पाटीदार आंदोलन के लिए पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन को जिम्मेदार ठहराया करते थे। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शाह की मीटिंग से पहले कुछ पाटीदार नेताओं को हिरासत में लिया गया था। लेकिन इसके बावजूद कुछ नाराज लोगों ने 'अमित शाह गो बैक' और ‘हार्दिक-हार्दिक’ नारेबाजी की। सभा में आए कुछ लोगों को भी हंगामा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पाटीदार सम्मान समिति ने पटेल-पाटीदार कम्युनिटी से ताल्लुक रखने वाले विधायकों और मंत्रियों के लिए यह प्रोग्राम रखा था।

अमित शाह की चाल उन्हीं पर उल्टी पड़ी
राजनैतिक कानाफूसी में कहा जाता है कि गुजरात में अमित शाह की मर्जी के बगैर आनंदीबेन के सीएम बन जाने के बाद अमित शाह ने ही पाटीदार आंदोलन को हवा दी थी। इस आंदोलन के जरिए उन्होंने आनंदीबेन के कुर्सी पहले हिलाई और फिर आनंदीबेन को गिराने में भी सफल रहे परंतु अब पाटीदार आंदोलन उनके नियंत्रण से बाहर हो चुका है। इस कार्यक्रम के जरिए वो यह जताना चाहते थे कि पाटीदार समुदाय उनके साथ है, परंतु जो हुआ वो बिल्कुल उलट ही था। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week