घोड़े की टांग तोड़ने के आरोपी भाजपा विधायक और वाड्रा में विवाद

Sunday, August 28, 2016

;
नईदिल्ली। देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर 'शक्तिमान' नाम के घोड़े की टांग तोड़ने के आरोपी भाजपा विधायक गणेश जोशी एवं गांधी परिवार के दामाद राबर्ट वाड्रा के बीच विवाद की खबरें आ रहीं हैं। विधायक जोशी ने इस तरह की घटना से इंकार किया है परंतु वाड्रा ने स्वीकारा है कि विवाद हुआ था। मामला संडे सुबह के समय का है। 

दरअसल, विधायक गणेश जोशी, महिला एवं बाल कल्याण राज्य मंत्री कृष्णा राज और भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी के स्वागत के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे, जबकि वाड्रा दून स्कूल में पढ़ रहे अपने बेटे से मिलने जा रहे थे। जिस फ्लाइट से भाजपा नेत्रियां पहुंची, उसमें राबर्ट वाड्रा भी सवार थे।

बताते हैं कि जब जोशी भाजपा नेताओं के साथ निकल रहे थे, तभी वाड्रा के सहयोगी ने जोशी और शक्तिमान प्रकरण का जिक्र किया। जैसे ही जोशी सामने से निकले तो वॉड्रा ने जोशी से पूछा कि आपने ही शक्तिमान की टांग तोड़ी थी। इस पर जोशी ने गुस्से में कहा कि "क्या तुम मजिस्ट्रेट हो, जो ऐसा सवाल पूछ रहे हो।" इस पर बहस तेज होने से हालात असहज होने लगे। हंगामा बढ़ता देख प्रोटोकॉल मजिस्ट्रेट तहसीलदार डोईवाला बीएस नेगी निकासी मंत्री और भाजपा प्रवक्ता के साथ ही गणेश जोशी को लेकर बाहर निकल गए।

जब विधायक गणेश जोशी से इस बाबत संपर्क किया गया तो उनका कहना था कि एयरपोर्ट पर वाड्रा जरूर थे, मगर उनकी कोई झड़प अथवा नोकझोंक नहीं हुई। वहीं, राबर्ट वाड्रा ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि "मेरे सहयोगी ने कहा कि यह शक्तिमान को घायल करने का आरोपी हैं। इस पर विधायक जोशी ने सुना तो वे भड़क उठे।" वाड्रा के मुताबिक तब मैंने कहा-"घोड़ा बेचारा बोल नहीं सका, लेकिन मैं सच बोलूंगा।" फिर विधायक हंगामे पर उतारू हो गए और बाद में सुरक्षाकर्मी उन्हें ले गए।

एक चर्चा यह भी है 
कुछ चैनलों में बात आई कि विधायक जोशी वाड्रा का भी स्वागत करना चाहते थे। जब वाड्रा को गुलदस्ता देने पहुंचे तो उनके सुरक्षाकर्मी ने शक्तिमान का जिक्र किया। इस पर वाड्रा ने गुलदस्ता लेने से इनकार कर दिया। इस पर दोनों में झड़प हुई। इस पर विधायक जोशी ने ट्वीट किया कि उन्होंने वाड्रा को कोई गुलदस्ता नहीं दिया और वे ऐसा करेंगे भी क्यों।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week