जब से भाजपा ने कदम रखा कश्मीर के हालात बदतर हो गए: रास में कांग्रेस - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

जब से भाजपा ने कदम रखा कश्मीर के हालात बदतर हो गए: रास में कांग्रेस

Wednesday, August 10, 2016

;
नई दिल्ली। राज्यसभा में आज कश्मीर के हालात को लेकर काफी चर्चा हुई। कांग्रेस की ओर से गुलाम नबी आजाद ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने मध्यप्रदेश से तो कश्मीर का मुद्दा उठाया लेकिन वो संसद में नहीं बोले। उन्होंने कहा कि, 'वजीर-ए-आज़म ने मध्यप्रदेश से कश्मीर पर नमक छिड़का'। उन्होंने कहा कि जब से बीजेपी ने घाटी में कदम रखा है तब से घाटी में हालात और बदतर हो गए हैं।

राज्यसभा में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जवाब दिया: 
* 'कश्मीर में जो भी हुआ उसमें पाकिस्तान का हाथ है, ये कहने में संकोच नहीं है'
* 'कश्मीर के लोगों को सुविधाएं पहुंचाने की हर संभव कोशिश की जा रही है'
* 'घायल लोगों के इलाज के लिए सरकार हर कोशिश कर रही है'
* 'प्रदेश सरकार ने शांति के लिए अच्छा काम किया है'
* 'सारे हिंदुस्तानियों का दिल कश्मीर और लद्दाख के लिए धड़कता है'
* 'गृहमंत्री होने के नाते मेरा भी संवेदनशीलता है, मेरी भी जिम्मेदारी है'
* 'प्रधानमंत्री से बातचीत होती है, मैं अपने मन से या उनके खिलाफ कुछ नहीं बोलता'
* 'जम्मू-कश्मीर की सरकार लोगों तक बुनियादी चीजें पहुंचा रही है'
* 'पढ़ने-लिखने वाले हाथों में पत्थर पकड़ा दिए गए हैं, भोले बच्चों का भविष्य बिगड़ रहा'
* '12 अगस्त को कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक होगी, जिसमें पीएम शामिल होंगे'
* 'नवाज शरीफ कहते हैं कि कश्मीर उनका होगा'
* 'दुनिया की कोई ताकत भारत से कश्मीर को नहीं छीन सकती'
* 'हिंदुस्तान में सभी धर्मों की कद्र करने वाली धरती का नाम भारत है'
* 'कश्मीर में अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजा गया है'
* 'राज्यों से कश्मीर में पढ़ने वाले छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पत्र लिखूंगा'
* 'पाकिस्तान से अगर अब बात होगी तो सिर्फ पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) पर होगी, कश्मीर पर नहीं होगी'
* राज्यसभा में कश्मीर पर संकल्प पारित किया गया

प्रधानमंत्री मोदी पर डायरेक्ट अटैक
आजाद ने संसद में चर्चा के दौरान एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के सदन में मौजूद रहने की मांग की। गुलाम नबी आजाद ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने मध्यप्रदेश से तो कश्मीर का मुद्दा उठाया लेकिन वो संसद में नहीं बोले। उन्होंने कहा कि, 'वजीर-ए-आज़म ने मध्यप्रदेश से कश्मीर पर नमक छिड़का'। उन्होंने कहा कि जब से बीजेपी ने घाटी में कदम रखा है तब से घाटी में हालात और बदतर हो गए हैं। आजाद ने बीजेपी पर आग लगाने का आरोप लगाया।

देश और कश्मीर के बीच एकता की ज़रूरत
आजाद ने कहा कि आतंकवादी आतंकवादी ही होता है चाहे वो कश्मीर का हो या पंजाब का। वहीं उन्होंने कहा कि कश्मीर में हर कोई आतंकवाद का शिकार है। हम में से कइयों ने कश्मीर में फैले इस आतंकवाद के कारण अपने प्रियजनों को खो दिया है। आजाद ने कहा कि घाटी में केन्द्र व राज्य सरकार के एकीकरण की जरूरत है। आप जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग कहते हैं, लेकिन वहां भारत और जम्मू-कश्मीर के लोगों के बीच दिल के एकीकरण की जरूरत है।

जेटली ने दिया जवाब
आजाद के बयान पर हंगामा होने के बाद अरुण जेटली ने कहा कि इस वक्त जम्मू-कश्मीर के हालात काफी संवेदनशील हैं। जरूरत इस बात की है सभी लोग एक जैसी भाषा बोलें। वहीं बीजेपी एमपी शमशेर सिंह ने कहा कि ये राष्ट्रीय मुद्दा है। जम्मू में राज्य की 55 फीसदी आबादी है। वहां बेरोजगारी है तो इसका मतलब ये नहीं कि वो लोग बंदूक उठा लें? शमशेर ने पीएम के बयान का समर्थन किया और कहा कि अगर पीएम मध्य प्रदेश में बोले तो क्या हुआ, एमपी क्या देश का हिस्सा नहीं है?

यादव ने भी घेरा 
वहीं जेडीयू की ओर से चर्चा में भाग लेते हुए शरद यादव ने कहा कि आज के दौर में भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि जहां तक कश्मीर की बात है तो वहां गोली से समस्या का हल नहीं निकलेगा। यादव ने पैलेट गन के इस्तेमाल पर रोक लगाने की भी मांग की।
;

No comments:

Popular News This Week