क्रेडाई के पूर्व सचिव को गिरफ्तार क्यों नहीं कर रही है पुलिस

Wednesday, August 3, 2016

इंदौर। क्रेडाई, यह नाम है उस संस्था का जो दावा करती है कि उसके सदस्य बिल्डर्स फर्जीवाड़ा नहीं करते और ग्राहकों को अच्छी क्वालिटी मटीरियल वाली प्रॉपर्टी उपलब्ध कराते हैं परंतु इंदौर में क्रेडाई मध्यप्रदेश का पूर्व सचिव ही फर्जीवाड़े के मामले में ढाई महीने से फरार चल रहे हैं। उधर भोपाल में भी क्रेडाई पर मोदी की फोटो वाला फर्जी विज्ञापन जारी करने का आरोप लगा हुआ है। 

इंदौर में 25 अप्रैल को शुभ-लाभ रेसीडेंसी रहवासी सीमेंट कंपनी के मैनेजर अजीत पिंगे ने बिल्डर संदीप श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की थी। दरअसल, संदीप क्रेडाई मध्यप्रदेश का सचिव रह चुका है। वह स्वास्तिक बिल्डर्स का मालिक भी है। 

संदीप से अजीत और उनकी पत्नी ने एक फ्लैट खरीदा था जिसे संदीप ने किसी दूसरे को भी बेच दिया था। इस तरह संदीप ने दो लोगों को एक फ्लैट बेचकर धोखाधड़ी की। जब बैंक अधिकारी फ्लैट की सर्च रिपोर्ट लेने पहुंचे तो पता चला कि उसमें पहले से कोई रह रहा है। बैंक अफसरों ने अजीत को इसके बारे में बताया तब संदीप की करतूत का पता चला। शिकायत के बाद पुलिस ने संदीप के खिलाफ 19 मई को केस दर्ज कर लिया। तब से पुलिस उसे तलाश रही है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week