शिक्षामंत्री जावड़ेकर ने गलती नहीं मानी, कंफ्यूज किया

Tuesday, August 23, 2016

;
नई दिल्ली। भारत सरकार के शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मप्र के छिंदवाड़ा में बोस, पटेल और नेहरू को आजादी की लड़ाई में फांसी चढ़ने वाला बताया। इस पर जब बवाल मचा तो उन्होंने सफाई दी। अपनी सफाई में भी जावड़ेकर ने गलती नहीं मानी, बल्कि लोगों को कंफ्यूज करने की कोशिश की, परंतु वो शायद भूल गए थे कि जहां वो भाषण दे रहे थे, वहां वीडियो कैमरे भी थे और रिकॉर्डिंग चल रही थी। 

जावड़ेकर ने ट्वीट करके अपने बयान पर सफाई देते हुए जावड़ेकर ने कहा कि मुझे खबर पर हैरानी है। मैंने 1857 से लेकर स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने वाले सभी महापुरषों को अपनी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा क‍ि मैंने गांधी, नेहरू, सुभाष चंद्र बोस जैसे नेताओं का उल्लेख किया। इसके बाद एक पूर्ण विराम था। अगले वाक्य में मैंने उन महापुरुषों को याद किया जिन्हें फांसी पर लटकाया गया था, जो जेल गये थे और जिन्होंने अंग्रेजों की यातनाएं सहीं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने सुना, उनके मन में कोई भ्रम नहीं था। मुझे उम्मीद है कि इससे सारा संदेह समाप्त हो जाएगा।

ये है वो वाक्य जिस पर विवाद हुआ
कितने वीर, नेताजी सुभाषचंद्र बोस, सरदार पटेल, पंडित नेहरू, भगत सिंह, राजगुरू, सभी जो फांसी पर चढ़े, क्रांतिवीर सावरकर जी, बाकी महान स्वतंत्रता सेनानी .............
विश्वास ना हो तो यह वीडियो देख लो (For Video Click Here)

;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week