अध्यापक बार बार नहीं अब आरपार की लड़ाई लड़ेंगे: भरत पटेल - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

अध्यापक बार बार नहीं अब आरपार की लड़ाई लड़ेंगे: भरत पटेल

Sunday, August 7, 2016

;
गुना। अध्यापक अब लड़ाई एक साथ लडेंगे, बार बार नहीं अब आरपार की लड़ाई लड़ना है। जो अध्यापक अपने अधिकार व हक प्राप्त न कर सके, वो बच्चों को कैसे शिक्षा का अधिकार दिला पाएंगे। यह बात आजाद अध्यापक संघ के प्रांताध्यक्ष भरत पटेल ने रविवार को चांचौड़ा के कम्युनिटी हाल में आयोजित अध्यापक मित्रता दिवस के मौके पर कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अध्यापक अलीराजपुर में प्रधानमंत्री से मिलकर उनसे दुखी मन से बात कर आर्थिक पैकेज की मांग करेंगे, जिससे उनकी मांग पूरी हो सके। अगर यहां पूरी नहीं हुई तो फिर आरपार की लड़ाई के लिए दिल्ली दूर नहीं है।

भरत पटेल ने कहा कि मप्र शासन द्वारा अध्यापक संवर्ग को छठवें वेतनमान के अधूरे आदेश को 7 जून को वापस लेने के बाद आज दिनांक जारी नहीं किया गया। तीन अगस्त को आस की बल्लभ भवन में शिक्षामंत्री व अधिकारियों के साथ बैठक हुुई, पर आदेश की बात पर सरकार मुकर गई। अब वार्ता का औचित्य ही खत्म हो गया। प्रांताध्यक्ष भरत पटेल ने कहा कि अध्यापक संवर्ग को गुमराह कर कई संगठन राजनीति कर रहे हैं। कई मोर्चा व मंच हैं, पर अध्यापकों के हित में नहीं बल्कि स्वार्थ पूर्ति में लगे हैं। 

आजाद अध्यापक संघ तो सिर्फ यही काम करना चाहता है कि विसंगतिरहित गणनापत्रक जारी हो और सभी दुकानों की दुकानदारी खत्म हो। संयुक्त मोर्चा ने 2013 में विसंगति को स्वीकार कर अपना स्वार्थ पूरा किया। अब हम पूरा व विसंगतिरहित गणनापत्रक लेंगे। मुख्यमंत्री जी से कह दिया है कि 15 अगस्त तक गणना पत्रक जारी करो। हमें तबादला नीति, प्रमोशन आदि सभी सुविधाएं भी मिलनी चाहिए और लेकर भी रहेंगे। उन्होंने अध्यापकों से आव्हान किया कि जिस क्षेत्र में मुख्यमंत्री, मंत्री और विधायकों के दौरे होते हैं, वहां उनका घेराव किया जाए। प्रांत सचिव नरेंद्र भारद्वाज ने कहा कि अब कोई और छलावा न हो। हम पुनः अपना आंदोलन शुरू करेंगे।

प्रांत उपाध्यक्ष रत्नेश मिश्रा ने कहा कि हम अलीराजपुर पहुंचकर प्रधानमंत्री के सामने अपनी पीड़ा रखेंगे। कार्यक्रम में नरेंद्र भारद्वाज, उर्मिलासिंह, प्रीतिसिंह, अफसार खान, केशव त्यागी, साजिद हुसैन, श्रीपत श्रीवास्तव, निर्भय सिंह, विनायक सोपरा, जमीलउद्दीन, बृजेश त्रिपाठी, केशव मथनेया, चंद्रलेश श्रीवास्तव, प्रदीप शर्मा, मुकेश मेहरा, मनोज व्यास, राजेंद्र जैन, निरंजन मीना, एहतेशामुद्दीन, नदीम खान, बीएम शर्मा, सुरेश शिल्पकार, नरेंद्र जकेले, राहुल रावत, रवि सिंह, जगदीशचंद्र भील, विजयसिंह, मांगीलाल भील, संजीव श्रीवास्तव, आरएस धुर्वे, रामगोपाल प्रजापति, राजेश त्यागी, मनोज सोपरा, अमरसिंह, भारतसिंह, रामहेत प्रजापति, सुरेश विश्वकर्मा, मुरारी शर्मा, शीतल श्रीवास्तव, जयप्रदा गुर्जर, मनोज साहू, गोविंद राठौर, ममता, तपन कुमार, सुमन्त मीना, राजकुमार बौद्ध, अनूप चौहान, मनोज यादव, राजेंद्र मीना, मिथुन शर्मा, गोविंद राठौर आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन विनायक सोपरा किया। 
;

No comments:

Popular News This Week