मप्र में सुरक्षित नहीं हैं बेटियां, स्कूल में 3 वर्षीय मासूम की यौन प्रताड़ना | Education News

Friday, August 26, 2016

ग्वालियर। महज 3 साल की मासूम बच्ची के साथ यौनप्रताड़ना का मामला सामने आने के बाद जैसे सारा शहर रामश्री किड्स स्कूल संचालकों के खिलाफ आ खड़ा हुआ है। इस घिनौने मामले में स्कूल बस के ड्रायवर एवं सहायक को हिरासत में लिया गया है लेकिन उनके परिजनों का आरोप है कि सबकुछ स्कूल के अंदर हुआ है। स्कूल के इंदर तो शराब पार्टी भी होती थी। मामला उजागर हुआ तो ड्रायवर व उसके सहायक को फंसाया जा रहा है। 

स्कूल में हुई इस घटना के खिलाफ शहर के सामाजिक संगठनों ने भी मोर्चा खोल दिया है। शुक्रवार को एसएफआई के सदस्यों ने स्कूल में जोरदार प्रदर्शन किया। हाथों में तख्तियां लेकर प्रदर्शन कर रहे सदस्यों में महिलाएं भी शामिल थीं। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि स्कूल में हुई इस घटना की निष्पक्ष जांच होना चाहिए। 

संगठन की सदस्य रचना का कहना है कि स्कूल में लगे कुछ सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ दिए गए थे। लिहाजा, पुलिस मामले की बारीकी से जांच कर असली दोषियों पर कार्रवाई करे। हंगामे की खबर लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मौके की नजाकत को देखते हुए प्रशासन के आला अधिकारी भी स्कूल पहुंच गए। पुलिस अधिकारियों ने संदेहियों के परिजनों को निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाया। वहीं, सामाजिक संगठनों की बात भी सुनी और मामले में हर स्तर पर सख्त कार्रवाई की बात कही है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week