पशु तस्कर को छुड़ाने पहुंचे भाजपाईयों पर फायरिंग, 1 मौत, कई घायल

Saturday, August 13, 2016

;
बलिया/उत्तरप्रदेश। यहां पशु तस्करी के एक गिरफ्तार हो चुके आरोपी को छुड़ाने के लिए पहुंचे भाजपा विधायक उपेन्द्र तिवारी सहित सैंकड़ों भाजपाईयों पर पुलिस ने लाठीचार्ज एवं फायरिंग कर ली। भाजपाईयों ने भी पुलिस पर पथराव किया। इस संघर्ष में 1 भाजपा कार्यकर्ता की मौत हो गई जबकि कई भाजपाई घायल हुए हैं। विधायक का दावा है कि 3 लोगों की मौत हो गई है। भाजपाई जिस पशु तस्करी के आरोपी को छुड़ाने आए थे, उसके खिलाफ कई थानों में मामले दर्ज हैं। 

पुलिस ने टेढ़वा के मठिया गांव में एक घर से पांच गाय व दो बछिया को पकड़ने के साथ ही पशु क्रूरता अधिनियम में मुकदमा दर्ज करते हुए चंद्रमा यादव को गिरफ्तार कर लिया था। चंद्रमा को छुड़ाने के लिए ही बीजेपी विधायक उपेंद्र तिवारी समर्थकों के साथ नरही थाने पहुंच गए। विधायक का आरोप है कि चंद्रमा को फर्जी फंसाया जा रहा है। घर पर छापेमारी के दौरान चंद्रमा के परिजनों से भी पुलिस ने दुर्व्यवहार किया। विधायक और नायब दरोगा पीएन उपाध्याय में बहस शुरू हो गई। इसके बाद विधायक ने पुलिस पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए थानाध्यक्ष सहित दो दरोगाओं पर मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग करते हुए धरना शुरू कर दिया।

कुछ देर में ही भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद दूबे, उपाध्यक्ष सूर्यदेव राय समेत बड़ी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता पहुंच गए। देर शाम तक नरहीं थाने के गेट पर ही धरना चलता रहा। एसडीएम बीएल मौर्या पहुंचे और समझाने की कोशिश की लेकिन विधायक तैयार नहीं हुए। अंधेरा होने लगा तो जनरेटर मंगा लिया गया और थाने को घेरकर घरना जारी रहा। रात करीब नौ बजे एसपी मनोज कुमार झा भी थाने पहुंच गए और कई थानों की पुलिस बुला ली गई। पुलिस वालों ने धरनारत लोगों को थाने के गेट से हटने को कहा तो विवाद शुरू हो गया। पुलिस के बल प्रयोग करते ही पथराव शुरू हो गया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से 38 वर्षीय विनोद राय की मौत हो गई और दो दर्जन के करीब लोगों को भगदड़ और लाठीचार्ज में चोटें लगी हैं। देर रात तक जिला अस्पताल पर भाजपाइयों का जमावड़ा होता रहा।

चन्द्रमा पर कई जिलों में दर्ज हैं पशु तस्करी के मुकदमे
नरहीं (बलिया) पुलिस द्वारा पकड़े गये जिस व्यक्ति के खिलाफ भाजपा विधायक उपेन्द्र तिवारी ने थाने का घेराव किया उसके खिलाफ कई जिलों में पशु तस्करी से सम्बंधित मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार मऊ के सरायलखंसी थाना में भी अपराध संख्या 253/14/3/5ए/8 गोवध पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमे दर्ज हैं। इनके साथ बक्सर के रामनिवास यादव व पिंटू यादव, फैजाबाद के हबीब खां व भांवरकोल के राजेन्द्र यादव भी सह अभियुक्त हैं। नरहीं पुलिस के अनुसार कल सूचना मिली थी कि ट्रक पर लादकर पशुओं को तस्करी के लिए ले जाया जा रहा है। पुलिस ने बैरिया तिराहे के पास जब इन्हें रोकने का प्रयास किया तो यह अंजोरपुर बंधे की तरफ गाड़ी लेकर भागने लगे। इन्हें मठिया गांव के पास से बरामद किया गया, जिसे पशु तस्कर पुलिस के दबाव में छोड़कर भाग गये थे।
;

No comments:

Popular News This Week